Wednesday, June 16, 2021

 

 

 

जेएनयु की प्रोफेसर के बवाली बोल कहा , सेना का जवान देश के लिए नही रोटी के लिए करता है काम

- Advertisement -
- Advertisement -

जोधपुर | कभी समाज को आइना दिखाने का काम करने वाली जेएनयु, अचानक से देश विरोधी कार्यो के लिए सुर्खियों में आने लगी है. एकाएक लोगो के विचार जेएनयु के बारे में बदलने लगे है. इसके लिए छात्रों से ज्यादा के वहां के प्रोफेसर जिम्मेदार है. केवल प्रोफेसर ही छात्रों के विचार बदलने की कुव्वत रखते है, और ऐसा हो भी रहा है. जेएनयु की प्रोफेसर निवेदिता मेनन खुद का परिचय भी देश विरोधी के रूप में देती है.

लेकिन प्रोफेसर निवेदिता मेनन ने इस बार जो बयान दिया है वो न केवल उनके लिए बल्कि जेएनयु के छवि को और नुकसान पहुँचाने वाला है. उन्होंने जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय में आयोजित के संगोष्ठी में भारतीय सेना, राष्ट्रिय ध्वज और भारत माता को लेकर बेहद ही विवादित बाते कही है. उनके बयान के बाद विश्वविद्यालय में ABVP के छात्रों ने खूब हंगामा किया और विश्वविद्यालय परिसर को बंद करा दिया.

बढ़ते विरोध को देखते हुए जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय के वीसी आरपी सिंह ने तीन सदस्यों की जांच कमिटी गठित करने का आदेश दिया. लेकिन छात्र इससे संतुष्ट नही हुए, वो प्रोफ. निवेदिता और आयोजको के खिलाफ पुलिस शिकायत करने की मांग कर रहे थे. बाद में वीसी ने निवेदिता और आयोजक डॉ. राजश्री राणावत के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करने का निर्देश दिया.

दरअसल जोधपुर की जयनरायण व्यास विश्वविधालय के अंग्रेजी विभाग ने एक संगोष्ठी का आयोजन किया था. इसमें प्रोफ. निवेदिता को भी अपने विचार रखने के लिए बुलाया गया था. मंच पर आते ही निवेदिता ने अपना परिचय देशविरोधी बताते हुए दिया. इसके बाद उनके पीछे चल रही स्लाइड में भी भारत का नक्शा उल्टा दिखाई दे रहा था.

उस समय लोगो ने समझा की यह गलती से हुआ होगा लेकिन बाद में निवेदिता ने स्पष्ट किया की उनके विभाग में भी भारत का नक्षा उल्टा लगाया गया है. मुझे इस नक़्शे में कोई भारत माता नजर नही आती . और वैसे भी दुनिया गोल है तो नक्शा कैसे भी देखा जा सकता है.

निवेदिता ने भारतीय सैनिको पर कहा की वो देश सेवा के लिए नही बल्कि रोटी के लिए काम करते है. उन्हें सियाचिन भेजकर क्यों मरवा रहे हो? निवेदिता यही नही रुकी उन्होंने भारत माता पर कहा की आखिर इसको इस रूप में क्यों दिखाया गया है? इसके हाथ में तिरंगा क्यों है? यह तो आजादी के बाद का झंडा है. पहले इसमें चक्र भी नहीं था. मैं इस भारत माता को नही मानती, इसकी फोटो बदलनी चाहिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles