Sunday, September 19, 2021

 

 

 

SC में 35-A की सुनवाई से पहले JKLF प्रमुख यासीन मलिक गिरफ्तार

- Advertisement -
- Advertisement -

श्रीनगर । जम्मू-कश्मीर पुलिस ने जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के प्रमुख यासीन मलिक को शुक्रवार देर रात गिरफ्तार कर लिया। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मलिक को एहतियातन गिरफ्तार किया गया है।

जेकेएलएफ के प्रवक्ता ने आज सुबह बताया कि एक पुलिस टीम ने मलिक के मैसुमा स्थित आवास पर छापा मारा और उसे हिरासत में ले लिया। उन्होंने बताया कि मलिक की गिरफ्तारी का कोई कारण नहीं बताया गया। मलिक को फिलहाल कोठीबाग थाने में रखा गया है।

मलिक को पिछले छह माह के दाैरान दर्जनों बार गिरफ्तार किया गया। कुछ मामलों में उसे एक या दो दिन की हिरासत के बाद रिहा कर दिया गया तो कुछ अन्य मामलों में उसे केंद्रीय कारागार में रखा गया और अदालत से जमानत मिलने के बाद रिहा किया गया।

जानकारी के मुताबिक अनुच्छेद 35-ए पर 26 फरवरी के आस-पास सुनवाई प्रस्तावित है। इसी वजह से एहतियातन यासीन मलिक को गिरफ्तार किया गया है। इससे पहले कश्मीर प्रशासन द्वारा अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा को वापस ले लिया गया था। जिसे यासीन मलिक ने झूठ करार दिया था।

 मलिक ने कहा कि उन्हें राज्य से कभी कोई सुरक्षा नहीं मिली। कट्टरपंथी हुर्रियत कॉन्फ्रेंस ने उसके अध्यक्ष सैयद अली शाह गिलानी की सुरक्षा वापस लेने संबंधी खबर को ‘हास्यास्पद’ बताया था। मलिक ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि मेरे पास पिछले 30 सालों से कोई सुरक्षा नहीं है। ऐसे में जब सुरक्षा मिली ही नहीं तो वे किस वापसी की बात कर रहे हैं. यह सरकार की तरफ से बिल्कुल बेईमानी है।

मलिक ने संबंधित सरकारी अधिसूचना को ‘झूठ’ करार दिया। कट्टरपंथी हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के प्रवक्ता ने कहा, सैयद अली शाह गिलानी की सुरक्षा वापस लेने से संबंधित खबर बिल्कुल झूठी है और ऐसी हास्यास्पद खबरों पर बस हंसी आती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles