jignesh kdgh 621x414@livemint

jignesh kdgh 621x414@livemint

अहमदाबाद । गुजरात के वड़ग़ाम से विधायक और दलित नेता जिग्नेश मेवानी ने भाजपा-आरएसएस पर गम्भीर आरोप लगाए है। उन्होंने अपनी जान को ख़तरा बताते हुए कहा की मेरी हत्या हो सकती है। जिग्नेश से पहले विश्व हिंदू परिषद के नेता प्रवीण तोगड़िया भी कुछ इसी तरह की आशंका व्यक्त कर चुके है। जिग्नेश के दावे के बाद कुछ दलित संगठनो ने उन्हें वाई श्रेणी की सुरक्षा देने की माँग की है।

मंगलवार को प्रवीण तोगड़िया ने प्रेस कॉन्फ़्रेन्स कर मोदी सरकार पर कई गम्भीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि मेरी आवाज़ को दबाने का प्रयास किया जा रहा है। मेरी हत्या की जा सकती है। उन्होंने राजस्थान पुलिस पर उनका एंकाउंटर करने का भी आरोप लगाया। इस दौरान वह काफ़ी भावुक भी दिखे। उनका कहना था की चूँकि मैं हिंदू समाज के लिए आवाज़ उठाता हूँ इसलिए मेरी आवाज़ बंद करने की कोशिश की जा रही है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

प्रवीण तोगड़िया की प्रेस कॉन्फ़्रेन्स के बाद जिग्नेश मेवानी ने भी भाजपा-आरएसएस पर हमला बोल दिया। इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए उन्होंने कहा,’ मेरे मन में भी वीएचपी नेता प्रवीण तोगड़िया की तरह डर है। मुझे भी इस बात का डर है कि कुछ लोग मेरी हत्या कर सकते हैं। बीजेपी और आरएसएस के लोग मुझे मार सकते हैं। मुझे सूत्रों के हवाले से पता चला है कि वे लोग मुझे रास्ते से हटाना चाहते हैं।’

जिग्नेश के दावे के बाद कुछ दलित संगठनो ने उन्हें वाई श्रेणी की सुरक्षा देने की माँग की है। इसके लिए उन्होंने गुजरात के कई ज़िला अधिकारियों को ज्ञापन भी दिया है। जिग्नेश को सुरक्षा देने के अलावा उन्होंने दलित नेता चंद्र्शेखर को रिहा करने और उनके ऊपर से सभी मुक़दमे हटाने की भी माँग की है। बताते चले की वाई श्रेणी की सुरक्षा में 8 कमांडो सहित 11 सुरक्षाकर्मी तैनात होते है।