Thursday, October 21, 2021

 

 

 

गोहत्या के आरोप में ईसाई पादरी को पीटा, आरोप – जय श्रीराम का नारा लगाने के लिए किया मजबूर

- Advertisement -
- Advertisement -

झारखंड के सिमडेगा में गोहत्या के आरोप में ईसाई पादरी को पीटने का मामला सामने आया है। साथ ही पादरी के साथियों को जूतों की माला पहना कर अपमानित भी किया गया। पुलिस ने पांच लोगों को गिरफ्तार किया है।

पादरी राज सिंह ने पुलिस को बताया कि यह घटना 16 सितंबर को उनके घर पर हुई। उन्होंने कहा कि उनके साथ 6 अन्य लोगों को जूतों की माला पहनाई गई और इलाके में घुमाया गया। राज सिंह ने यह भी कहा कि जय श्री राम के नारे नहीं लगाने को लेकर भी उनके साथ मारपीट की गई।

मामले में एसपी तबरेज ने कहा कि सिंह की पत्नी रोजेलिन कुल्लू की शिकायत पर एक प्राथमिकी दर्ज की गई, जिसमें आईपीसी धारा 341 (गलत संयम), 323 (स्वेच्छा से चोट पहुंचाना), 354 (बी) (हमला करने के इरादे से महिला पर आपराधिक बल का प्रयोग) , 504 (जानबूझकर शांति भंग करने के इरादे से अपमानजनक) और एससी / एसटी अधिनियम की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

डीआईजी रांची (छोटा नागपुर रेंज) अखिलेश झा ने कहा: “हमारी जाँच के अनुसार हमें सूचना मिली थी कि एक मवेशी का वध किया गया था। पुलिस मौके पर पहुंची और उसे कुछ नहीं मिला…। शिकायत के आधार पर हमने भीड़ के खिलाफ मामला दर्ज किया और हमने उनमें से पांच को गिरफ्तार किया है। ‘ यह पूछे जाने पर, डीआईजी झा ने कहा कि आरोपी सभी स्थानीय ग्रामीण हैं और “उनका किसी संगठन से कोई संबंध नहीं है”।

हालांकि, उन्होंने कहा कि प्रारंभिक जांच में किसी भी व्यक्ति को जय श्री राम का लगाने के लिए मजबूर नहीं किया गया। लेकिन पादरी सिंह, क्ग्गफ़्स्क्ष्क्ष्ज़ और उनकी पत्नी रोज़लीन इस बात पर कायम  हैं कि उनके साथ मारपीट की गई और जय श्री राम का नारा लगाने के लिए मजबूर किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles