नई दिल्ली | पिछले कुछ दिनों में गौरक्षा के नाम पर हुई गुंडागर्दी के बाद पुरे देश में गौहत्या पर कानून बनाने को लेकर बहस छिड़ी हुई है. मोहन भागवत से लेकर बीजेपी के ज्यादातर नेता इस पर सख्त कानून बनाने के पक्ष में है. हालाँकि देश में कुछ ऐसे राज्य है जहाँ गौहत्या को लेकर पहले से ही कानून बने हुए है. लेकिन कुछ राज्यों में अभी भी गौहत्या पर कोई रोक नही है. इनमे उत्तर पूर्व के वो राज्य भी शामिल है जहाँ बीजेपी सत्ता में है.

अभी पिछले दिनों राजस्थान के अलवर में गौरक्षको की गुंडागर्दी की वजह से एक शख्स को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा. इस मामले को लेकर राज्यसभा और लोकसभा में काफी हंगामा भी किया गया. गौरक्षा के नाम पर हो रही इस गुंडागर्दी की सभी विपक्षी दलों ने निंदा की है. बुधवार को महिला सुरक्षा को गौरक्षा के साथ जोड़ते हुए समाजवादी पार्टी की सांसद जया बच्चन ने मोदी सरकार पर तंज कसा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने राज्यसभा में बोलते हुए कहा की पुरे देश में महिलाओ की सुरक्षा को लेकर कोई भी ठोस कदम नही उठाया गया है. जबकि महिला सुरक्षा को सर्वोपरि रखते हुए इसके लिए कुछ बड़े कदम उठाने की जरुरत है. जया बच्चन ने आगे कहा की सरकार गायो को बचाने के लिए कदम उठा रही है लेकिन महिलाओ पर हो रहे अत्याचार कम होने का नाम नही ले रहे है.

जया बच्चन ने सरकार से कहा की महिलाओ की सुरक्षा के लिए युद्धस्तर पर पहल करने की जरुरत है. महिलाओ की सुरक्षा का मुद्दा उठाने पर साथी सांसदों ने जया बच्चन का मेज थपथपाकर उनकी बात का समर्थन किया. बताते चले की जया बच्चन समाजवादी पार्टी से राज्यसभा की सदस्य है और वो सदन में सामाजिक मुद्दे उठाने में अग्रणी भूमिका निभाते आई है. निर्भया केस के दौरान भी उन्होंने इस मुद्दे को सदन में पुरे जोर शोर से उठाया था. इस दौरान वो कई बार भावुक भी हुई.

Loading...