अयोध्या में बनने वाली मस्जिद का डिजाइन जामिया के प्रोफेसर करेंगे तैयार

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद अयोध्या में बनने वाली मस्जिद का डिजाइन दिल्ली की जामिया मिलिया इस्लामिया (Jamia Millia Islamia) के प्रोफेसर एसएम अख्तर तैयार करेंगे। प्रो एसएम अख्तर ने बताया कि अयोध्या में सुन्नी वक्फ बोर्ड ने उन्हें जिम्मेदारी दी है।

अख्तर ने कहा कि उन्हें हाल ही में परिसर का डिजाइन तैयार करने का काम दिया गया था जिसमें भारत-इस्लामी शोध केंद्र, एक पुस्तकालय और एक अस्पताल भी होगा। उन्होंने कहा कि वह बहुत जल्द ही परियोजना पर काम शुरू कर देंगे। हालांकि उन्होने ये भी कहा कि यह किसी एक मस्जिद का डिजाइन तैयार करने का सवाल नहीं है।

प्रोफेसर अख्तर के मुताबिक उस पूरी इमारत में हिंदुस्तानियत, मानवता और इस्लामिक मूल्यों की झलकी नजर आएगी। यहां लोगों को प्रवेश करने पर हिंदुस्तानी संस्कृति की झलक मिलेगी। इसके अलावा इमारत में मानवता के मूल्य भी नजर आएंगे।  बता दें, अयोध्या के सोहावल तहसील के धन्नीपुर गांव में सुन्नी वक्फ बोर्ड (Sunni Waqf Board) को यह जमीन दी गई है।

जामिया मिलिया इस्लामिया में आर्किटेक्ट विभाग के प्रमुख अख्तर ने कहा, 1000 से अधिक आर्किटेक्ट मेरे छात्र रहे हैं और वे दुनिया भर में फैले हुए हैं। वे मेरे साथ सहयोग कर सकते हैं। इस परियोजना पर काम करने का विकल्प मेरे वर्तमान छात्रों के लिए भी खुला रहेगा क्योंकि यह उनके लिए सीखने का अनुभव होगा।

अख्तर ने विश्वविद्यालय के कंप्यूटर केद्र, उसके अस्पताल और यहां तक ​​कि वास्तुकला भवन का भी डिजाइन तैयार किया है। उन्होंने स्थानीय क्षेत्र की योजनाओं के सिलसिले में दिल्ली सरकार के साथ भी काम किया है।

विज्ञापन