श्रीनगर | हिजबुल मुजाहिद्दीन के निशाकषित कमांडर जाकिर राशिद मुसा ने भारतीय मुसलमानों पर बेहद ही कड़ी टिप्पणी की है. उसने भारतीय मुसलमानों को बेशर्म बताते हुए कहा की ये दुनिया के सबसे रीढ़विहीन मुस्लमान है. इसके अलावा मूसा ने भारतीय मुसलमानों को भारत के खिलाफ इस्लामिक जिहाद का हिस्सा नही बनने पर खूब खरी खोटी सुनाई. यही नही उसने कमांडर सज्बर भट्ट के एनकाउंटर में अपनी संलिप्ता का भी खंडन किया.

सोमवार को जाकिर राशिद मूसा ने एक ऑडियो क्लिप जारी कर भारतीय मुसलमानों पर हमला बोला. करीब चार मिनट की इस ऑडियो में मूसा ने कहा की हमारी बहनों के साथ बदसलूकी हो रही है और ये चिल्ला रहे है की इस्लाम शांति का प्रतीक है. इनको खुद को मुस्लमान कहने पर शर्म आनी चाहिए. ये (भारतीय मुसलमान) दुनिया की सबसे बेगैरत कौम है जो अपनी बहनों की रक्षा नही कर सकते.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसके अलावा मूसा ने गौरक्षको द्वारा कुछ मुस्लिमो की पिटाई करने पर भारतीय मुसलमानों की चुप्पी पर भी सवाल किया. उन्होंने कहा की गौरक्षक , मुस्लिमो को मार रहे है और ये चुपचाप तमाशा देख रहे है. मूसा ने कहा की ये दुनिया के सबसे रीढ़विहीन मुस्लमान है जो अन्याय और अत्याचार के खिलाफ आवाज नही उठा सकते. हमारे पैगम्बर और उनके अनुयाइयो ने हमको यही सिखाया है?

मूसा ने आगे कहा की हमारे पैगम्बरों ने अपनी बहनों की रक्षा के लिए युद्ध में अपना खून बहाया है और कुर्बानिय दी है. इसलिए मैं अपने समर्थको से गज्वा-ए-हिन्द (भारत को जीतने की अंतिम लड़ाई) में शामिल होने का आह्वाहन करता हूँ. हिजबुल कमांडर सब्जार भट्ट के एनकाउंटर पर अपनी संलिप्त पर उन्होंने कहा की मुझे इस पर स्पष्टीकरण देने की जरुरी नही है लेकिन जो मेरा प्रतिनिधित्व करते है उन्हें हतियार लेकर मुझे ज्वाइन करना चाहिए.