इस्लाम मुकम्मल मजहब, किसी भी बदलाव की जरूरत नहीं: अजमेर दरगाह दीवान

9:28 am Published by:-Hindi News

तीन तलाक को लेकर अजमेर दरगाह के दीवान सय्यद जैनुल आबदीन ने कहा है कि तीन तलाक पर पूरी तरह बैन लगाने को गलत हैं. उन्होंने इसके साथ ही इसके गलत इस्तेमाल पर भी नाराजगी जाहिर की.

उन्होंने कहा कि  इस्लाम मुक़म्मल मज़हब है इसमें सुधार की कोई जरूरत नहीं हैं. हालांकि साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि तीन तलाक को लेकर शौहर को बचने की ज़रूरत है और इसका इस्तेमाल सिर्फ ज़रूरी होने पर किया जाना चाहिए.

दरगाह दीवान ने हाल ही में सोनू निगम द्वारा अज़ान को लेकर पैदा किये गए विवाद पर भी टिप्पणी की. उन्होने कहा आरती,भजन,गुरुवाणी और अज़ान इस देश का हिस्सा है और इसे ज़बरदस्ती की क्रिया बताना गलत है बल्कि सोनू निगम खुद ज़बरदस्ती वाली बात कर रहे है .

इसके अलावा उन्होंने बीफ पर बैन को सही बताया और कहा कि उन्होंने पहले भी बीफ पर बैन की मांग की थी क्युकि हमें भी दुसरे के मज़हब का सम्मान करना होगा वही दुसरे को भी हमारे मज़हब का सम्मान करना चाहिए.

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें