नई दिल्ली,जामिया मिल्लिया इस्लामिया में पिछले दिनों दिल्ली पुलिस द्वारा छापा मारने और वीडियोग्राफी करने पर मुस्लिम स्टूडेंट्स ऑर्गनाइजेशन ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय महासचिव इंजीनियर शुजाअत अली कादरी ने कहा कि आखिर अल्पसंख्यक शैक्षिक संस्थानों में सरकार द्वारा भय का माहौल क्यों बनाया जा रहा है।

आए दिन मुस्लिम अल्पसंख्यक शैक्षिक संस्थानों को निशाना बनाया जा रहा है और वहाँ तालीम हासिल कर रहे छात्रों को परेशान किया जाता है जिससे उनकी शिक्षा प्रभावित होती है।

शुजाअत अली कादरी ने कहा कि जांच के नाम पर जिस तरह से हथियारों से लैस पुलिस ने जामिया मिल्लिया इस्लामिया के हॉस्टल में रेड किया उसकी हम निंदा करते हैं और दिल्ली पुलिस व गृह मंत्रालय से मांग करते हैं कि स्पष्ट करें कि हथियारों के साथ जामिया मिल्लिया इस्लामिया के हॉस्टल में पुलिस क्या करने आई थी.और उनका मकसद क्या था।

गौरतलब रहें कि शनिवार को दिल्ली पुलिस ने जामिया  के छात्रावासों का ‘औचक निरीक्षण’ किया था. इस जांच को मुस्लिम संगठनों ने संवैधानिक अधिकारों का उल्लंघन बताया हैं.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?