hamid

उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने शुक्रवार को सामाजिक विकास सूचकांक पर अन्य समुदायों की तुलना में मुस्लिम समुदाय के पिछड़े जाने पर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सबका साथ, सबका विकास नारे को हकीकत में बदलन हैं तो अल्पसंख्यक समुदाय को अन्य समुदायों को बराबरी देनी होगी.

उन्होंने आगे कहा, अल्पसंख्यकों को गिड़गिड़ाने के बजाय सरकार से अपना हक़ मांगना चाहिए. उन्होंने कहा, इनके पास सरकार से मांगने का कानूनी हक है और अल्पसंख्यकों को कई बार उनके दायित्वों और जिम्मेदारियों की याद दिलाने की जरूरत पड़ती है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अंसारी ने मुसलिमों को अपने भीतर झांकने और शिक्षा उपलब्ध कराने पर अधिक ध्यान देने को भी कहा क्योंकि इस समुदाय में पढ़ाई बीच में छोड़ने वाले बच्चों की संख्या बहुत अधिक है. उपराष्ट्रपति ने कहा, हमारे प्रधानमंत्री ने सबका साथ, सबका विकास पर जोर दिया है. लेकिन अगर सबको साथ चलना है तो सबको एक लाइन में खड़ा होना है.

उन्होंने आगे कहा कि अगर कोई 10 गज पीछे है तो मुकाबला नहीं कर सकता। सबको एक लाइन पर लीजिए तब मुल्क तरक्की करेगा. यह एक महान राष्ट्र है और आगे समृद्ध होगा.

Loading...