रायपुर केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) का मानना है कि दंतेवाड़ा में घातक बारूदी सुरंग विस्फोट में शहीद होने वाले सुरक्षाकर्मियों की आवाजाही से जुड़ी जानकारी लीक हुई थी। ऐसे जासूस का पता लगाने के लिए जांच शुरू कर दी गई है। अर्धसैन्य बल का मानना है कि जासूस इस बल के भीतर का भी हो सकता है और बाहर का भी।

सीआरपीएफ महानिदेशक के. दुर्गा प्रसाद ने कहा कि यह तय है कि उनकी आवाजाही से जुड़ी जानकारी लीक हुई थी। कहीं न कहीं या किसी न किसी स्तर पर ऐसा हुआ है। जवानों की आवाजाही औचक और अभियान से परे की थी और इसलिए वे सादे कपड़ों में थे। हम इसकी जांच कर रहे हैं। दंतेवाडा़ के मेलावाडा़ गांव के पास बुधवार को नक्सलियों द्वारा किए गए घातक बारूदी सुरंग विस्फोट में सीआरपीएफ के सात जवान शहीद हो गए थे। (rajasthanpatrika)


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें