इस्लाम धर्म की पवित्र हज यात्रा के सबंध में बड़ी खुशखबरी है. सऊदी हुकूमत ने भारतीयों के हज कोटे में की लिए 5000 यात्रियों की संख्या वृद्धि की है. ऐसे में अब पौने दो लाख मुस्लिम हज पर जा सकेंगे.

केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी द्वारा सऊदी के हज व उमराह मंत्री मोहम्मद सालेह बिन ताहेर बेनतेन के साथ द्विपक्षीय वार्षिक हज समझौता 2018 पर हस्ताक्षर के कुछ दिनों बाद सऊदी अरब का यह फैसला आया है. आजादी के बाद यह पहला मौका होगा जब इतनी तादाद में भारतीय हज यात्रा करेंगे.

इसके अलावा पहली बार महिला हज यात्रियों को महिला सहायक की सुविधा दी जाएगी. इसके अतिरिक्त इनके रहने और यातायात की अलग से व्यवस्था की जाएगी. इस बार हज के लिए 2018 में 3.55 लाख आवेदन प्राप्त हुए हैं. भारतीय हज समिति लकी ड्रॉ के जरिए हज यात्रा पर जाने वालों के नाम तय करेगी.

नकवी ने कोटे में बढ़ोतरी का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बढ़ती लोकप्रियता व भारत के सऊदी अरब से मजबूत होते संबंधों को दिया है. नकवी ने कहा कि तीन साल पहले यह कोटा 1.36 लाख था.

साथ ही सऊदी अरब की सरकार ने भारत की उस मांग को भी कर लिया है जिसमे समुद्री मार्ग से हज यात्रा की मंजूरी मांगी गई थी. दोनों देशों के अधिकारीयों ने इस पर तकनीकी रूप से भी काम करना शुरू कर दिया है.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें