5887777777777

यूपी के कुशीनगर में आज सुबह एक बड़ा हादसा हुआ. जिसमें स्कूली वैन और ट्रेन की टक्कर हो गयी जिसमें 13 मासूम बच्चों की जान चली गयी. घटना के दौरान ड्राइवर ने कान में ईयरफोन लगाए हुए था, जिस वजह से ड्राईवर को ट्रेन के आने की आवाज सुनाई ही नहीं दी और वैन ट्रेन की चपेट में आ गई. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बच्चों ने ट्रेन देखकर चिल्लाना भी शुरू कर दिया था पर ड्राइवर ने ध्यान नहीं दिया.

आपको बता दें कि, कुशीनगर के विशुनपुरा थाने के दुदही रेलवे क्रॉसिंग पर स्कूल वैन के थावे-बढ़नी पैसेंजर ट्रेन से टकराने के चलते 13 बच्चों की दर्दनाक मौत हो गई. हादसे के बाद एक बार फिर मानवरहित रेलवे क्रॉसिंग्स पर चर्चा शुरू हो गई है. बताया जा रहा है कि जिस क्रॉसिंग पर यह हादसा हुआ, वहां गेट मित्र तैनात था. उसने स्कूल वैन को क्रॉसिंग पार करने की कोशिश करते और दूसरी तरफ से ट्रेन को आते देखा तो चेतावनी देने की कोशिश भी की.

हादसे के दौरान गेट मित्र आवाज देता रहा लेकिन कान में हेडफोन लगाए ड्राइवर ने उसकी आवाज सुनी ही नहीं. इस दौरान वैन में सवार बच्चे भी चीख रहे थे लेकिन चालक गाना सुनने में मग्न था. ना ही उसे बच्चों के चीखने की आवाज़ आई और ना ही गेट मित्र की.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, रेलवे अधिकारियों ने कहा कि, स्कूल वैन का ड्राइवर कान में ईयरफोन लगाए हुए थे. स्थानीय नागरिकों ने भी यही बात कही है. उनका कहना है कि बच्चे चीखते-चिल्लाते रहे लेकिन ड्राइवर ने उनकी आवाज पर ध्यान नहीं दिया. इसलिए यह बड़ा हादसा हुआ और पुरे मामले का ज़िम्मेदार ड्राईवर ही है.

Loading...