Sunday, November 28, 2021

महिला पत्रकार ने पूछा सवाल, राज्यपाल ने सहला दिया गाल

- Advertisement -

तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित फिर से विवादों में घिरते नजर आ रहे हैं. दरअसल राज्यपाल पुरोहित ने इस बार ऐसी हरकत कर डाली की महिला पत्रकार को शर्मिंदगी महसूस होने लगी. “डिग्री के लिए सेक्स केस” में घिरे बनवारी लाल पुरोहित ने मंगलवार को इस मामले पर प्रेस कॉन्फ्रेस बुलाई थी. लेकिन राज्यपाल ने यहाँ ऐसी हरकत की जिससे सब हैंरान हो गये. महिला पत्रकार ने राज्यपाल से सवाल किया लेकिन राज्यपाल ने जवाब देने के बजाए महिला पत्रकार का गाल सहलाने लगे.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राज्‍यपाल की इस हरकत से महिला पत्रकार काफी असहज महसूस करने लगीं. महिला पत्रकार के मुताबिक, इस घटना के बाद उन्होंने कई बार अपना मुंह धोया, लेकिन वह इस बात को भुला नहीं पा रही थी. उन्हें राज्यपाल का इस तरीके से उनका गाल सहलाना बिलकुल भी पसंद आया.

आपको बता दें कि, राज्‍यपाल की इस हरकत के बाद महिला पत्रकार लक्ष्मी सुब्रमण्यम ने सोशल मीडिया के जरिए इस हरकत का विरोध किया. इसके साथ ही उन्‍होंने एक मैगजीन आर्टिकल लिखा और अपना विरोध ज़ाहिर किया. उन्होंने मैगज़ीन में राज्‍यपाल के ऐसा करने को दुखद और गलत बताया है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, महिला पत्रकार ने ट्वीट किया कि, “मैंने अपना चेहरा कई बार धोया, लेकिन मैं अभी भी बहुत असहज मेम्सूस कर रहीं हूँ. उन्होंने आगे कहा कि, राज्‍यपाल बनवारी लाल पुरोहित से मैं काफी गुस्‍से में हूं. उन्होंने कहा कि शायद यह उनका प्रोत्साहन का तरीका हो सकता है और दादाजी जैसा रवैया हो, लेकिन मेरे लिए आप गलत हैं.”

महिला पत्रकार ने आगे लिखा कि, यह अव्‍यवहारिक रवैया है. किसी भी अंजान को उसकी सहमति के बिना छूना, खास तौर से महिला को, ये गलत है.

आपको बता दें कि, तमिलनाडु में विपक्षी दल द्रमुक ने घटना को संवैधानिक पद पर बैठे एक व्यक्ति का इस तरह से  छूना गलत है. द्रमुक की राज्यसभा सदस्य कनिमोझी ने ट्वीट किया कि, “अगर संदेह नहीं भी किया जाए तब भी संवैधानिक पद पर बैठे एक व्यक्ति को इसकी मर्यादा समझनी चाहिए. एक महिला पत्रकार को छूकर गरिमा का परिचय नहीं दिया है.”

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles