कोच्चि में CAA के खिलाफ सड़कों पर दिखा जनसैलाब – भारत में पैदा हुए, भारत में रहेंगे…..

केरल के कोच्चि में नए साल के पहले दिन हजारों मुस्लिमों ने संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ प्रदर्शन किया और मोदी सरकार से इस विवादास्पद कानून को वापस लेने की मांग की।

प्रदर्शनकारियों ने अपने हाथों में तिरंगा और तख्तियां ले रखी थीं. तख्तियों पर लिखा था- ‘‘भारत में पैदा हुए, भारत में रहेंगे, भारत में मरें”गे।’’ प्रदर्शनकारियों ने महात्मा गांधी, बी आर आंबेडकर और मौलाना अब्दुल कलाम आजाद की तस्वीरें भी ले रखी थीं।

जवाहरलाल नेहरू इंटरनेशनल स्टेडियम से निकाली गई इस विशाल रैली में भाग लेने वाले लोगों ने सीएए को लागू करने के केंद्र सरकार के फैसले के खिलाफ नारे लगाए।इसका आयोजन मुस्लिम लीग, जमात-ए-इस्लाम, जमीयतुल उलमा समेत विभिन्न मुस्लिम संगठनों द्वारा संयुक्त रूप से किया गया था।

रैली का समापन स्टेडियम से पांच किलोमीटर दूर मैरीन ड्राइव में हुआ। राज्य के विभिन्न अन्य मुस्लिम संगठन भी इस संयुक्त परिषद का हिस्सा हैं, जिन्होंने दावा किया है कि विभिन्न महल्लू समितियों के तहत लाखों लोगों ने (मस्जिदों के धार्मिक क्षेत्राधिकार के तहत आने वाले क्षेत्र) रैली में भाग लिया है।

भावात्मक तौर पर उत्साह से भरे प्रदर्शनकारियों ने हाथों में अंबेडकर की तस्वीर और तख्तियां ले रखी थीं। वे नारा लगा रहे थे – “हम सबसे पहले और सबसे आखिर में भारतीय हैं।” महात्मा गांधी की तस्वीर के नीचे एक तख्ती पर लिखा था- “भारत हमारा देश है” रैली का समापन स्टेडियम से पांच किलोमीटर दूर मरीन ड्राइव में हुआ।

विज्ञापन