aap

लम्बे समय बाद आम आदमी पार्टी की सरकार को दिल्ली हाई कोर्ट से बड़ी राहत मिली है. लाभ के पद मामले में अयोग्य ठहराई गयी आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों की सदस्यता बहाल कर दी गई है.आपको बता डंक कि, चुनाव आयोग की सिफारिश को खारिज करते हुए दिल्ली हाई कोर्ट ने निर्देश जारी किये है.

दिल्ली हाई कोर्ट ने कहा है कि, विधायकों की याचिका पर दोबारा सुनवाई की जाए. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इस फैसले का स्वागत किया और. साथ ही ट्वीट कर ख़ुशी ज़ाहिर करते हुए कहा कि, आखिर ‘सच की जीत हुई.’ अब केजरीवाल सभी 20 विधायकों से मुलाकात भी करेंगे.

वहीँ केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा,’दिल्ली के लोगों द्वारा चुने हुए प्रतिनिधियों को गलत तरीके से बर्खास्त किया गया था. हाई कोर्ट ने दिल्ली के लोगों को इन्साफ दिया है. यह दिल्ली के लोगों की बड़ी जीत है. दिल्ली के लोगों को बधाई.’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी की नेता अलका लांबा ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि कोर्ट के फैसले के बाद सभी 20 विधायक बने रहेंगे, उन्हें मुंह की खानी पड़ी है जो सरकार गिराने की कोशिश कर रहे थे.

AAP ने मनाई ख़ुशी

AAP के 20 विधायकों की सदस्यता रद्द होने के मामले में दिल्ली हाई कोर्ट की 2 जजों की बेंच ने यह बड़ा फैसला सुनाया है. रिपोर्ट के मुताबिक, कोर्ट में 15 से ज्यादा पूर्व विधायक भी मौजूद थे.

दिल्ली हाई कोर्ट का फैसला आते ही AAP के खेमे में खुशी की लहर दौड़ गई और जश्न मनाया जाने लगा. दिल्ली के लोगों ने एक दूसरे को बधाई दी और मिठाई बांटी गई. वहीं, चुनाव आयोग की ओर से फिलहाल कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

Loading...