अहमदाबाद: बुधवार को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के एक कार्यक्रम के दौरान कथित तौर पर एक मुस्लिम महिला का अपमान किया गया. इस दौरान मुस्लिम महिला को हिजाब हटाने के लिए मजबूर किया गया.

दरअसल, अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर खास उपलब्धि हासिल करने वाली महिलाओं के सम्मान में गांधी नगर में यह कार्यक्रम आयोजित हुआ था. इस कार्यक्रम में शहरबन सईदसलावी नामक महिला शमिल हुई. जो केरल से आए प्रतिनिधिमंडल की हिस्सा थीं.

केरल महिला आयोग की सदस्य नूरबीना राशिद ने कहा कि महिला सरपंच सईदसलावी को कार्यक्रम स्थल पर मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने हिजाब हटाने का आदेश दिया. वहीँ पूरे कार्यक्रम के दौरान हिजाब पहनने नहीं दिया गया. सईदसलावी के साथ मौजूद एक अन्य सदस्य ने बताया कि जब केरल से आए प्रतिनिधि मंडल ने इस मामले में दखल दिया तब करीब घंटे भर बाद उन्हें हिजाब वापस लौटाया गया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सईदसलावी पिछले 20 सालों से स्थानीय स्तर की नेता हैं. केरल के वायनाड में उनके पंचायत को पहला शौचमुक्त पंचायत घोषित किया गया. नूरबीना राशिद ने इस घटना पर रोष जताते हुए कहा कि यह अपमानजनक है और पूरी तरह अस्वीकार्य है. महिला दिवस पर अल्पसंख्यक समुदाय की एक महिला के साथ ऐसा व्यवहार हो रहा है.

वहीं, केरल महिला आयोग ने इस घटना को मानवाधिकार उल्लंघन करार देते हुए संबंधित सुरक्षा कर्मी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. लेकिन जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने इस तरह की घटना से इनकार किया है.

Loading...