पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी जिले में बाल तस्करी के एक मामले में भाजपा नेता जूही चौधरी की गिरफ्तारी के बाद अब बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली से भी पूछताछ होगी. इस मामलें में दोनों की भूमिका की जांच चल रही हैं.

दरअसल, इस मामले की मुख्य अभियुक्त चंदना चक्रवर्ती के खुलासे के बाद बीजेपी महिला मोर्चा की महासचिव जूही चौधरी की गिरफ्तारी हुई थी. चंदना चक्रवर्ती ने जूही चौधरी के बीजेपी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली से रिश्तें होने का खुलासा किया था. साथ ही इन दोनों नेताओं की भी इस मामलें में संलिप्ता का भी आरोप लगाया था.

चंदना ने पुलिस को बताया है कि जूही ने आश्रय नामक संरक्षण गृह के लिए केंद्रीय महिला व बाल कल्याण मंत्रालय से 22.5 रुपए लाख का अनुदान हासिल करने के लिए दोनों भाजपा नेताओं-रूपा गांगुली व विजयवर्गीय की सहायता ली थी. वहीँ खुफिया विभाग का दावा है कि उसके पास चौधरी व विजयवर्गीय के सचिव के बीच हुई बातचीत की आडियो क्लिप है.

जांच टीम ने अभियुक्तों के कब्जे से एक डायरी बरामद करने का भी दावा किया है. उसे पता चला है कि जूही ने मुख्य अभियुक्त चंदना के साथ दो फरवरी को दिल्ली का दौरा किया था और वहां कैलाश विजयवर्गीय से मुलाकात की थी. जूही की गिरफ्तारी के साथ ही इस मामले में अब तक चार लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें