सिखों के शीर्ष संगठन अकाल तख्त खुलकर गुरमेहर कौर के समर्थन में उतर आया हैं. अकाल तख्त के प्रमुख ज्ञानी गुरबचन सिंह ने कहा कि सिख समुदाय गुरमेहर कौर के साथ है.

सोशल मीडिया पर एबीवीपी के खिलाफ ऑनलाइन कैंपेन शुरु करने के बाद एबीवीपी कार्यकर्ताओं की और से दिल्ली यूनिवर्सिटी की छात्रा गुरमेहर कौर को कथित तौर पर गैंगरेप की धमकी मिली थी. जिसके बाद वे खुद को इस कैंपेन से अलग करते हुए अब दिल्ली छोड़कर पंजाब के जालंधर चली गई है.

काल तख्त के जत्थेदार ने कहा कि यह बेहद दुभार्ग्यपूर्ण है कि सिख धर्म और इसके वचनों से अनभिज्ञ कुछ लोग सिख लड़की गुरमेहर को धमकियां दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि सिख समुदाय ने क्रूर लोगों से हमेशा ही लड़कियों को बचाया है. यहां तक कि गुरू गोविंद सिंह और उनके पिता गुरू तेग बहादुर साहिब ने अन्य धर्मों के लोगों के जीवन की रक्षा के लिए अपनी जान तक दे दी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

जत्थेदार ने कहा कि संकट के समय में पूरा सिख समुदाय गुरमेहर के साथ खड़ा है. उन्होंने दिल्ली सरकार से गुरमेहर को धमकियां देने वाले लोगों के खिलाफ कड़े कदम उठाने की मांग की और कहा कि ऐसा नहीं होने की स्थिति में सिख समुदाय मूक दर्शक बनकर नहीं रहेगा.

शिरोमणि गुरूद्वारा प्रबंधक समिति (एसजीपीसी) के अध्यक्ष कृपाल सिंह बहादुर ने भी कहा कि सिख समुदाय हमेशा गुरमेहर के साथ है. उन्होंने कहा कि वह शहीद कैप्टन मनदीप सिंह की बेटी है जिन्होंने देश के लिए अपनी जान दे दी और उसके मान-सम्मान की रक्षा करना देश का कर्तव्य है.

Loading...