mother of sher mohammad

जहाँ एक ओर मेन स्ट्रीम मीडिया के पास तीन तलाक और ज़हीर खान की सगाई इस समय सबसे बड़ी खबर है वहीँ जांबाज़ कांस्टेबल शेर मोहम्मद अस्पताल में ज़िन्दगी और मौत से जूझ रहे है. उनके गाँव में उनकी सलामती के लिए दुआओं का दौर जारी है.

शेर की माँ भी है शेरनी

वीर जवानो के इस देश में यूं ही कोई शेर पैदा नही होता जब तक की उन्हें जन्म देने वाली फरीदा जैसी शेरनी ना हो, शेर मोहम्मद की माँ फरीदा ने मीडिया के सामने जिस तरह से अपने बेटे की वीरता पर गर्व किया उसे देखकर यही कहा जा सकता है की सिर्फ ऐसी शेरनी ही शेर मोहम्मद जैसे कांस्टेबल को जन्म दे सकती है, उन्होंने कहा की “आज मुझे अपने बेटे पर बहुत फख्र हो रहा है, मेरे बेटे ने पांच नक्सली मारे, पूरा गाँव उसके लिए सलामती की दुआ कर रहा है.”

photo ANI

पिता भी फ़ौज में थे

यूपी के बुलंदशहर के रहने वाले शेर मोहम्मद की पिता भी भारतीय सेना में थे, अस्पताल में शेर मोहम्मद ने बताया की नक्सलियों की संख्या 300 के करीब थी, हमने भी जमकर फायरिंग की। उन्होंने बताया कि तीन से चार नक्सलियों के सीने पर मैंने खुद गोली मारी है।अस्पताल में भर्ती शेर मोहम्मद से जब हमले को लेकर बात की गई तो उन्होंने बताया कि आखिर कैसे नक्सलियों ने बेहद गोपनीय अंदाज में इस हमले को अंजाम दिया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने बताया कि नक्सलियों ने हमले से पहले इसकी पूरी रणनीति बनाई थी। उन्होंने हमले से पहले हमारी सही स्थिति की जानकारी के लिए ग्रामीणों की सहायता ली। घायल सीआरपीएफ जवान शेर मोहम्मद ने बताया कि नक्सलियों ने पहले ग्रामीणों को हमारी स्थिति जानने के लिए भेजा। जब उन्हें हमारी टीम की स्थिति का पता चल गया तो करीब 300 नक्सलियों ने हम पर हमला कर दिया।

Loading...