Wednesday, October 27, 2021

 

 

 

रोहित खुदकुशी मामला : छात्रों का प्रदर्शन तेज, जेएनयू तक पहुंची विरोध की आंच

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली: हैदराबाद सेंट्रल यूनिवर्सिटी के छात्र रोहित वेमूला की खुदकुशी को लेकर छात्रों का विरोध-प्रदर्शन थमने के बजाय और तेज होता जा रहा है। देश के कई हिस्सों से छात्र आज ‘चलो हैदराबाद यूनिवर्सिटी’ रैली में हिस्सा ले रहे हैं। सैकड़ों छात्रों के हैदराबाद यूनिवर्सिटी पहुंचने की उम्मीद है। इस बीच रोहित की खुदकुशी को लेकर विवादों से घिरे यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर अप्पा राव लंबी छुट्टी पर चले गए हैं। प्रदर्शनकारी छात्र वीसी को हटाने और छात्रों पर कार्रवाई के लिए मानव संसाधन मंत्रालय को चिट्ठी लिखने वाले केंद्रीय मंत्री बंडारू दत्तात्रेय के खिलाफ कार्रवाई की मांग पर अड़े हैं।

रोहित खुदकुशी मामला : छात्रों का प्रदर्शन तेज, जेएनयू तक पहुंची विरोध की आंचअप्पा राव की जगह विपिन श्रीवास्तव अंतरिम वाइस चांसलर
अप्पा राव की जगह विपिन श्रीवास्तव अंतरिम वाइस चांसलर होंगे। विपिन श्रीवास्तव रोहित और दूसरे चार छात्रों के निलंबन का फैसला लेने वाली कमेटी के प्रमुख थे।

रोहित की मां अस्पताल में भर्ती
इस बीच बेटे की खुदकुशी के बाद सदमे में डूबी रोहित की मां को रविवार को सीने में दर्द की शिकायत के बाद आईसीयू में भर्ती कराया गया।

जेएनयू तक पहुंचा विरोध
हैदराबाद यूनिवर्सिटी के छात्र रोहित वेमूला की खुदकुशी के विरोध में हो रहा प्रदर्शन देश के कई हिस्सों में फैलता जा रहा है। रोहित को इंसाफ देने की मांग को लेकर जेएनयू के छात्रों के एक गुट ने रविवार से भूख हड़ताल शुरू कर दी है। यूनिवर्सिटी के तीन छात्र सुचिश्री, लेनिन कुमार और शुभांशु ने हैदराबाद यूनिवर्सिटी में भूख हड़ताल कर रहे छात्रों के प्रति एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए अनशन पर बैठने का फैसला किया है। जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष लेनिन कुमार ने कहा कि यूनिवर्सिटी के अन्य छात्र भी इन तीनों के साथ रिले भूख हड़ताल पर बैठेंगे। साभार: NDTV

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles