कैराना | कैराना से बीजेपी सांसद और पूर्व की राज्य सरकार में मंत्री रहे हुकुम सिंह ने पिछले साल कैराना से हिन्दुओ के पलायन का मुद्दा उठा सबको चौंका दिया था. उस समय इस मामले ने पूरा तूल पकड़ा और कई सामाजिक और सरकारी संगठनों ने कैराना पहुंचकर पलायन की हकीकत जानने की कोशिश की. कई महीने तक मीडिया की सुर्खिया बना यह मुद्दा उत्तर प्रदेश चुनावो में भी खूब उछाला जा रहा है.

बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ ने तो यहाँ तक बयान दिया की हम पश्चिमी उत्तर प्रदेश को कश्मीर नही बनने देंगे. हालाँकि बीजेपी चुनावो में इस मुद्दों को खूब भुनाने की कोशिश कर रही है लेकिन इस मुद्दे को शिद्दत से उठाने वाले उन्ही के सांसद हुकुम सिंह अब अपने ही बयान से पलट गए है. मतदान करने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा की मैंने कभी भी हिन्दू पलायन का मुद्दा नही उठाया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अपने बयान से पीछे हटते हुए हुकुम सिंह ने कहा की मैंने सिर्फ पलायन का मुद्दा उठाया था. मैंने कभी भी यह नही कहा की कैराना से हिन्दुओ का पलायन हो रहा है. उन्होंने इस बात से भी इनकार किया की किसी धर्म विशेष के प्रभाव की वजह से हिन्दू कैराना से पलायन कर रहे है. इस पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा की मैंने बढ़ते अपराधो की वजह से पलायन होने की बात कही थी.

हुकुम सिंह ने प्रदेश में बढ़ते अपराध के लिए समाजवादी सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा की कैराना में कानून व्यवस्था बिगड़ने और गुंडाराज होने की वजह से लोगो का पलायन हुआ. प्रदेश की समाजवादी परिवार अपराधियों से निपटने में विफल रही है. मालूम हो की कैराना विधानसभा सीट से हुकुम सिंह की बेटी मृगांका सिंह , बीजेपी के टिकेट पर चुनाव लड़ रही है. उनके अपने बयान से पीछे हटने का एक कारण यह भी हो सकता है.

Loading...