हॉस्टल फीस बढ़ाने के फैसले के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे छात्रों के लिए राहत की खबर है। दरअस, छात्रों के भारी विरोध के बाद जेएनयू प्रशासन ने हॉस्टल फीस बढ़ोतरी में कटौती करने का फैसला लिया है।

इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार, नए फैसले के अनुसार, सिंगल रूम का किराया 200 रुपये जबकि डबल रूम के कमरे का किराया 100 रुपये होगा। वहीं, हॉस्टल के लिए डिपॉजिट फीस 5,500 रुपये होगा। सर्विस चार्ज 1700 रुपये लगेगा। इसके साथ ही विश्वविद्यालय आर्थिक रूप से कमजोर (ईडब्ल्यूएस) छात्रों को सहायता मुहैया कराएगा।

इससे पहले, सिंगल रूम के लिए किराया 20 रुपये से बढ़ाकर 600 रुपये और डबल रूम का किराया 10 रुपये से बढ़ाकर 300 रुपये प्रतिमाह कर दिया गया था। इसके साथ ही 1700 रुपये का सर्विस चार्ज भी लगाया गया था।

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक एचआरडी मंत्रालय में शिक्षा सचिव आर सुब्रमण्यम ने बताया कि जेएनयू की एक्जक्यूटिव कमेटी ने फीस बढ़ाने के फैसले को वापस लेने का निर्णय लिया है। इसके अलावा आर्थिक रुप से कमजोर छात्रों (EWS) को  आर्थिक मदद देने का भी प्रस्ताव रखा गया है।

आर सुब्रमण्यम ने ट्वीट कर कहा कि फीस और अन्य नियमों को लेकर लिए गए फैसलों को वापस ले लिया गया है। छात्रों को अब क्लासों का रुख करना चाहिए। इससे पहले एक बयान में जेएनयू के रजिस्ट्रार ने कहा कि विश्वविद्यालय पर पानी, बिजली और सर्विस चार्ज के रूप में हर साल 10 करोड़ रुपये का बिल आता है, जिसे वह विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) से मिली राशि से देता है।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन