marvah

marvah

पिछले सप्ताह आठ फरवरी को पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के लिए जासूसी करने व उसको गोपनीय दस्तावेज मुहैया कराने के आरोप में गिरफ्तार एयरफोर्स के ग्रुप कैप्टन अरुण मारवाह 14 दिन की न्यायिक हिरासत में है.

इस मामले में अब बड़ा खुलासा हुआ है. मारवाह दो महिलाओं के टच में था. इन महिलाओं ने मारवाह को एडल्ट वेबसाइटों से डाउनलोड कर पांच वीडियो भेजे थे. ये दोनों महिलाएं आईएसआई से जुडी हुई बताई जा रही है. दोनों से मारवाह की दोस्ती फेसबुक के जरिए हुई थी.

पुलिस के अनुसार, मारवाह के फोन से डिलीट किए जा चुके वीडियो बरामद हो चुके है. ऐसे में अब पुलिस फेसबुक से महिलाओं की प्रोफाइस के आईपी एड्रेस मांग कर दोनों की प्रोफाइल जनरेट की लोकेशन जानने में जुटी है. साथ ही फेसबुक से ऑफिशियल सीक्रेट एक्ट के तहत जांच कर रहे अधिकारी ने फेसबुक से डिलीट किए जा चुके मैसेज मांगे हैं.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि महिलाओं की प्रोफाइल से रक्षा शाखा के 60 लोग जुड़े मिले, जिनमें से कुछ रिटायर हो चुके अधिकारी थे. मारवाह और इन दोनों महिलाओं ने एक-दूसरे से नंबर लिए और व्हॉट्सएप और टेलीग्राम के जरिये भी बात की. साथ ही इनके बीच वीडियो कॉल भी हुए.

हालांकि यह पहला मौका नहीं है कि जब सेना को कोई अधिकारी जासूसी में गिरफ्तार हुआ है. इससे पहले भी कई अधिकारियों की गिरफ्तारी हो चुकी है. साल 2015 में रंजीत केके नाम के एक एयरमैन को जासूसी के आरोप में गिऱफ्तार किया गया था.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?