Tuesday, June 22, 2021

 

 

 

म्यांमार से भागकर आ रहे लोगों को गृह मंत्रालय ने भारत में घुसने से रोकने के दिए आदेश

- Advertisement -
- Advertisement -

सैन्य तख्तापलट के बाद भागकर भारत आ रहे म्यांमार के लोगों को गृह मंत्रालय ने उत्तर-पूर्वी राज्यों को भारत में घुसने से रोकने के आदेश दिए है। बता दें कि अब तक 100 से ज्यादा लोग म्यांमार से भागकर भारत के नॉर्थ ईस्ट हिस्से के एक गांव में आ गए हैं।

गृह मंत्रालय के डिप्टी सेक्रेटरी रैंक के एक अधिकारी ने नागालैंड, मिजोरम, मणिपुर, अरुणाचल प्रदेश के मुख्य सचिवों और अमस राइफल्स के महानिदेशों को लिखे एक पत्र में कहा है कि वह सतर्क रहें और अगर कोई भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश करता है तो उसे हर हाल में रोकें।

पत्र में यह भी कहा गया है कि म्यांमार से अवैध लोगों की आवाजाही शुरू हो गई है। पत्र के जरिए राज्य सरकारों को यह भी बताया गया है कि म्यांमार प्रशासन ने मिजोरम में अपने समकक्षों से कहा है कि यदि पिछले कुछ दिनों में म्यांमार से सीमा पार कर लोग भारत आएं हैं तो उन्हें पुलिस को सौंपा जाए।

10 मार्च को लिखे गए पत्र में साफ तौर पर लिखा है कि, ‘राज्य सरकारों और केंद्रशासित प्रदेशों के पास किसी भी विदेशी को शरणार्थी का दर्जा देने की शक्ति नहीं है और भारत 1951 के संयुक्त राष्ट्र शरणार्थी सम्मेलन और इसके 1967 के प्रोटोकॉल का हस्ताक्षरकर्ता नहीं है। इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए आपसे कानून के अनुसार म्यांमार से अवैध आमद को जांचने का अनुरोध किया गया है।’

इसी बीच मिजोरम राज्य में मौजूद फरक्कान गांव की काउंसिल के अध्यक्ष रामलियाना ने दावा किया कि अब तक म्यांमार के 116 नागरिक तियु नदी को पार करके भारतीय सीमा में घुसे हैं। दावा है कि ये लोग जिस रास्ते से म्यांमार से भारत के फरक्कान गांव में पहुंचे वहां असम राइफल के जवान मौजूद नहीं होते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles