दक्षिण कन्नड़ (मंगलुरु) जिले के सुलिया में एक 24 वर्षीय युवक को अपनी इच्छा पर इस्लाम स्वीकार करने पर हिन्दुत्व कार्यकर्ताओं ने बुरी तरह से पीटा और उसको दुबारा से हिन्दू धर्म अपनाने की धमकी दी.

सुलिया के सतीश आचार्य ने एक साल से अधिक समय पहले जब वह केरल में काम कर रहा था. इस्लाम धर्म से प्रभावित होकर उसे अपना लिया था. 2015 में सतीश ने अपना नाम बदलकर मोहम्मद मुस्तकीम रख लिया था.  इस बारे में कोझिकोड की तबियातुल इस्लाम सभा द्वारा एक सर्टिफिकेट भी जारी किया गया था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस्लाम धर्म अपनाने  के बाद, सतीश ख़ुशी से अपने परिवार के सदस्यों के साथ रहकर अपने माता-पिता की देखबाल कर रहा था. लेकिन कुछदिन पहले उसके पास कुछ हिंदुत्व विश्वास के स्थानीय नेता आये और उसे दुबारा हिन्दू धर्म में लोटने की धमकी दी.

गुरुवार को एक स्थानीय राजनीतिज्ञ ने सतीश के घर का दौरा करने की योजना बनाई थी. जब वह इस बारे में सतीश को पता चला तो उसने  घर छोड़ देने का फैसला किया और अपनी मारुती वैन से निकल गया. इस दौरान हिन्दुत्व कार्यकर्ताओं ने  उसका पीछा किया और रोक कर उसकी पिटाई की.

सतीश को  सुलिया में KVG अस्पताल में भर्ती कराया गया. करुणाकर के रूप में एक हमलावर की पहचान हुई हैं लेकिन पुलिस ने अब तक कोई केस दर्ज नहीं किया.

Loading...