मेरठ | योगी आदित्यनाथ ने मुख्यमंत्री की शपथ लेने के बाद कहा था की उनका पहली प्राथमिकता प्रदेश की कानून व्यवस्था को दुरुस्त करना है. लेकिन कानून व्यवस्था सुधारने के नाम पर उनका ही संगठन लोगो के साथ गुंडागर्दी करने पर उतारू हो गया है. यह संगठन मोरल पुलिसइंग के नाम पर कानून की धज्जिया उड़ा रहा है और प्रशासन भी आँखे बंद करे सब कुछ चुपचाप देख रहा है.

योगी द्वारा गठित किया गया अराजनैतिक संगठन, हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओ द्वरा मेरठ में एक प्रेमी युगल के साथ बदसलूकी का मामला सामने आया है. टाइम्स नाउ की खबर अनुसार मेरठ में हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओ ने एक युवक के घर में घुसकर न केवल उसके साथ बदसलूकी की बल्कि उसे और उसकी प्रेमिका को घसीटते हुए थाने ले गया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दरअसल मेरठ में एक मुस्लिम युवक , एक हिन्दू युवती से प्रेम करता था. जैसे ही यह खबर हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओ को लगी वो तुरंत उस मुस्लिम युवक के घर पहुंचे. इस दौरान घर में उसकी प्रेमिका भी मौजूत दी. इन्होने घर में घुसकर पहले युवक के साथ बदसलूकी की, इसके बाद युवक और उसकी प्रेमिका को घर से निकालकर घसीटते हुए थाने ले गए.

युवक का आरोप है की वाहिनी के कार्यकर्ताओ ने पुलिस पर दबाव बनाया की उनके खिलाफ कार्यवाही की जाए. युवक का कहना है की यह सब मोरल पुलिसइंग के नाम पर किया जा रहा है. उन्होंने हमें बुरी तरह अपमानित किया और घसीटते हुए थाने लेकर आये. हालाँकि पुरे मामले पर मेरठ पुलिस ने चुप्पी साध रखी है. यह मामला इसलिए भी गंभीर है क्योकि खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ , मुख्यमंत्री बनने से पहले लव जिहाद के मुद्दे पर खुलकर बोल चुके है. उन्होंने इसे बड़ा मुद्दा बताया था.

Loading...