273619 hindu court

लखनऊ. उत्‍तर प्रदेश के मेरठ जिले में अखिल भारतीय हिंदू महासभा ने हिंदू धर्म को खतरे में बताते हुए भारत की पहली हिंदू अदालत स्थापित की है।

जनसत्ता में छपी खबर के अनुसार, इस अदालत में पहली न्यायाधीश के रूप में एक महिला को नामित किया गया है।महासभा का कहना है कि 15 नवंबर को अलीगढ़, हाथरस, मथुरा, फिरोजाबाद और शिकोहाबाद में भी हिंदू अदालत की स्थापना की जाएगी। इसी दिन महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को फांसी दी गई थी।

हिंदू महासभा का कहना है इस अदालत में जमीन, मकान, दुकान, विवाह आदि से जुड़े मामलों का निपटारा किया जाएगा। संगठन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अशोक शर्मा के अनुसार अलीगढ़ निवासी डॉक्टर पूजा शकुन पांडे को कल स्थापित हिंदू अदालत की पहली हिंदू जज भी घोषित कर दिया गया है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

godse

उनका कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की तरफ से की गई उपेक्षा की वजह से भी अदालत गठित करनी पड़ी है। गौरतलब है कि अखिल भारत हिन्दू महासभा गांधी आदर्शों को नहीं बल्कि नाथूराम गोडसे के आदर्शों को मानता है।

 हिन्दू महासभा का कहना है कि हर धर्म अपनी अदालत चला रहा है तो ऐसे में हिन्दू पीछे क्यों रहे? उनका कहना है कि वो इस अदालत में विवाह, धन और धार्मिक मामलों को इस अदालत में रखा जाएगा, जिसमें वो गोली मारने और मृत्युदण्ड देने से भी पीछे नहीं हटेंगे

Loading...