Saturday, December 4, 2021

जापान के प्रधानमंत्री को मस्जिद दौरे पर ले जाने से हिन्दू महासभा हुई लाल कहा, हिन्दू समाज मोदी को नही करेगा माफ़

- Advertisement -

नई दिल्ली | जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे अपने दो दिवसीय दौरे के लिए बुधवार को भारत पहुंचे. यहाँ उनका प्रधानमंत्री मोदी ने गर्मजोशी से स्वागत किया. इस दौरान उन्होंने मोदी के साथ गुजरात के अहमदाबाद स्थित सीदी सैय्यद मस्जिद का भी दौरा किया. प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी का यह पहला मस्जिद दौरा था. माना जा रहा है की मोदी ने आने वाले गुजरात चुनाव में अल्पसंख्यको को साधने के लिए मस्जिद का दौरा किया.

लेकिन यह बात अखिल भारतीय हिन्दू महासभा को नागवार गुजरी. इस पर अपनी सख्त नाराजगी जताते हुए उन्होंने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा की उन्होंने देश की संस्कृति का अपमान किया है. इसके लिए हिन्दू समाज उनको माफ़ नही करेगा. हिन्दू महासभा ने मोदी पर गुजरात चुनावो को देखते हुए अल्पसंख्यको का तुष्टिकरण करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा की इसी वजह से आज कांग्रेस की भी हालत ख़राब है.

हिन्दू महासभा के राष्ट्रिय महासचिव मुन्ना कुमार ने मोदी पर हमला करते हुए कहा की भारत एक हिन्दू राष्ट्र है, हिन्दू राष्ट्र के रूप में ही भारत की पहचान है. भगवान शिव, राम और कृष्ण भारत की संस्कृति के प्रतीक हैं. इसलिए शिंजो आबे को मस्जिद की जगह सोमनाथ मंदिर, द्वारका और ज्योतिर्लिंग के दर्शन कराने चाहिए थे. मोदी के इस कदम से हिन्दुओ की भावनाए आहत हुई है. हमारा मानना है की गुजरात चुनाव को देखते हुए ऐसा कदम उठाया गया.

मुन्ना कुमार ने मोदी पर भारत और हिन्दू विरोधी काम करने का आरोप लगाते हुए कहा की उन्होंने भारतीय संस्कृति का अपमान करने का काम किया है. अगर बीजेपी ऐसे ही काम करती रही तो मोदी सरकार को मिटने में ज्यादा समय नही लगेगा. बताते चले की शिंजो आबे दो दिन के भारत दौरे पर है. गुरुवार को शिंजो आबे और मोदी ने साबरमती रेलवे स्टेशन के पास एथलेटिक स्टेडियम में महत्वाकांक्षी 1.08 लाख करोड़ रुपए (17 अरब डॉलर) की अहमदाबाद-मुंबई हाई-स्पीड रेल प्रोजेक्ट की नींव रखी.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles