4 6 620x400

4 6 620x400

नई दिल्ली । जम्मू कश्मीर के नायाब ग्रैंड मुफ़्ती नासिर उल इस्लाम अचानक से सुर्ख़ियो में आ गए है। देश की अखंडता को लेकर दिए गए उनके एक बयान से पूरे देश में बवाल मचा हुआ है। हालाँकि उन्होंने जो बयान दिया है वह उनकी मुसीबत बढ़ा सकता है लेकिन अभी तक प्रदेश की सरकार ने उनके ख़िलाफ़ कोई कार्यवाही नही की है। सरकार से पहले अखिल भारतीय हिंदू महासभा की और से उनका सर क़लम करने वालों को इनाम देने की घोषणा की गयी है।

दरअसल मुफ़्ती नासिर उल इस्लाम ने एक इंटरव्यू के दौरान अलग इस्लामिक मुल्क बनाने की माँग की थी। उन्होंने कहा था की भाजपा और आरएसएस के लोग मुस्लिमों पर इतना अत्याचार कर रहे है की अब मुस्लिमों के सामने अलग इस्लामिक मुल्क की माँग करने के अलावा कोई चारा नही है। हालाँकि बाद में उन्होंने सफ़ाई देते हुए कहा की भाजपा और आरएसएस मुस्लिमों को अलग देश बनाने के लिए मजबूर कर रहे है।

मंगलवार को श्रीनगर में प्रेस कॉन्फेंस करते हुए उन्होंने कहा कि भारतीय मुसलमान अपने लिए अलग मुल्क की मांग करें। केंद्र से लेकर राज्य सरकार पर हमला बोलते हुए मुफ्ती ने कहा कि हिंदुस्तान में मुसलमानों के हालात बेहद खराब हैं। मुफ़्ती के इसी बयान पर बवाल मचा हुआ है। चूँकि नायाब मुफ़्ती एक सरकारी मुलाजिम होता है जो सरकारी वेतन लेता है इसलिए लोग मुफ़्ती को तुरंत पद से हटाने की माँग कर रहे है।

उधर अखिल भारतीय हिंदू महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता अशोक कुमार पाण्डेय ने मुफ़्ती का सर क़लम करने वाले को 11 रुपय इनाम देने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि मुफ़्ती की औक़ात 11 रुपय से ज़्यादा नही है। सर कलम करने वाले के जमानत, जमानती और घर के ख़र्चे तक की पूरी जिम्मेदारी अखिल भारत हिन्दू महासभा उठायेगी। ये राष्ट्रद्रोही कदम है ये वो कदम है जो भारत माता के खण्डन की आवाज उठा रहा है। ये वो कदम है जो भारत में इस्लामिक आतंकवाद को जन्म दे रहा है।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें