झारखंड के सरायकेला के चर्चित तबरेज अंसारी मामले में छह आरोपियों को हाईकोर्ट से जमानत मिल गई। झारखंड हाईकोर्ट के जस्टिस आर मुखोपाध्याय की पीठ ने भीमसेन मंडल, चामू नायक, महेश महली, सत्यनारायण नायक, मदन नायक, विक्रम मंडल को ज़मानत दे दी।

बता दें कि तबरेज अंसारी को चोरी के आरोप में भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी थी। हालांकि, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में बेरहमी से पीटे गए तबरेज अंसारी की मौत ब्रेन हैमरेज से बताई गई थी। वहीं, तबरेज अंसारी का वीडियो भी वायरल हुआ था। वीडियो से यह खुलासा हुआ था कि तबरेज को जय श्री राम और जय हनुमान बोलने के लिए मजबूर किया गया था।

सुनवाई के दौरान आरपियों के वकील एके साहनी ने कोर्ट से कहा कि तबरेज अंसारी मामले में इनका नाम प्राथमिकी में नहीं है और न ही नामजद आरोपित पप्पू मंडल ने पुलिस को दिए अपने बयान में इनका नाम लिया है। हालांकि सुनवाई के दौरान तबरेज अंसारी के परिजनों की ओर से कोर्ट में पेश वकील ने आरोपियों की जमानत का विरोध किया।

आरोपियों के वकील ने कोर्ट को बताया कि 18 जून, 2019 को चोरी के आरोप में तबरेज अंसारी को पुलिस ने गिरफ्तार किया था और सीजेएम कोर्ट ने उसे जेल भेज दिया। 22 जून को उसकी तबीयत खराब हुई और इलाज के दौरान सरायकेला के सदर अस्पताल में तबरेज की मौत हो गई थी। वकील ने कहा कि ऐसे में यह हिरासत में हुई मौत से जुड़ा मामला है। ऐसे में इन्हें जमानत मिलनी चाहिए।

भीड़ हिंसा के इस मामले में तबरेज की पत्नी एस परवीन ने प्राथमिकी दर्ज कराई। ऐसे में अब तबरेज के परिजन हैरान और परेशान है।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन