नई दिल्ली । प्रधानमंत्री मोदी का गढ़ समझे जाने वाले गुजरात में कांग्रेस ने बड़े ही ज़ोरदार तरीक़े से चुनाव लड़ा। अंतिम नतीजों ने इस बात को साबित भी किया। जहाँ भाजपा 99 पर सिमटी हो गयी वही कांग्रेस भी 80 सीटों पर जीत दर्ज करने में सफल रही। इन चुनावो का रोमांच इस बात से समझ जा सकता है की क़रीब 28 सीटे ऐसी रही जिनमे जीत-हार का अंतर 200 से 2500 वोटों का रहा।

हालाँकि पहले से यह स्पष्ट था कि ये चुनाव भाजपा के लिए बेहद मुश्किल होने जा रहे है।  राहुल गांधी के अलावा  पाटिदार नेता हार्दिक पटेल, दलित नेता जिग्नेश मेवाणी और ओबीसी नेता अल्पेश ठाकोर की तिकड़ी ने भी इन चुनावों को ऐसी स्थिति में ला दिया था जहाँ से भाजपा को केवल हार ही नज़र आ रही थी। इसके बावजूद भाजपा ने  लगातार छठी बार बहुमत का आँकड़ा छुआ। यही बात उनके विरोधियों को हज़म नही हो रही है।

माना जा रहा था की हार्दिक पटेल की वजह से भाजपा को पटेलो की नाराज़गी का सामना करना पड़ेगा। लेकिन ऐसा नही हुआ। यही बात हार्दिक के मन में संशय पैदा कर रही है। इसलिए उन्होंने भाजपा की जीत को बेईमानी की जीत क़रार दिया। उन्होंने ट्वीट कर कहा,’ मैं बीजेपी को उसकी जीत के लिए अभिनंदन नहीं दूंगा क्योंकि ये जीत बेईमानी से हुई हैं। गुजरात की जनता जागृत हुई हैं लेकिन और जागृत होना ज़रूरी हैं। ईवीएम के साथ छेड़छाड़ हुई है यह हक़ीक़त हैं।’

एक अन्य ट्वीट में हार्दिक ने लिखा,’ हार्दिक नहीं हारा,बेरोज़गारी हारी है,शिक्षा की हार हुई है,स्वास्थ्य की हार हुई है,किसान की नमी आँख हारी हैं। आम लोगों से जुड़ा हर मुद्दा हारा है एक उम्मीद हारी हैं। सच कहु तो गुजरात की जनता हारी हैं ईवीएम की गडबडी जीत गई हैं।’ हार्दिक के आरोपो का कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने भी समर्थन किया है। उन्होंने भी ईवीएम में छेड़खानी करने का आरोप लगाय है।

उन्होंने ट्वीट कर लिखा,’  जब पूरा गुजरात भाजपा के ख़िलाफ़ था, प्रधानमंत्री की सभाओं मे कुर्सियाँ ख़ाली दिखती थीं,तो उसे यह जीत गुजरात की जनता ने नहीं, ईवीएम ने दिलाई है। हमें पहले से यह आशंका थी। सभी सावधान हो जाइए,भारतीय जनतंत्र के लिए यह बड़ा ख़तरा है।’ अपने दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा की मैं अपनी बातो पर अडिग हूँ।

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?