hapud

उत्तर प्रदेश के हापुड़ में कथित गौरक्षा के नाम पर हुई मुस्लिम युवक की हत्या के मामले मे गिरफ्तार मुख्य आरोपी को 20 दिन मे ही जमानत मिल गई। ऐसे मे अब गंभीर सवाल खड़े हो रहे है।

हापुड़ की सत्र न्यायाधीश रेणु अग्रवाल की अदालत ने एक लाख रुपये के मुचलके पर मामले के कासिम की हत्या के मामले में गिरफ्तार किए गए बझेड़ा गांव के मुख्य आरोपी युधिष्ठिर पुत्र शिवदयाल को जमानत दे दी।

खास बात ये रही कि स्थानीय पुलिस ने कासिम के परिजनों को यह भी नहीं बताया कि आरोपी पक्ष ने अदालत में जमानत अर्जी दाखिल कर दी है। जिसके कारण वे अपने वकील के जरिए जमानत का विरोध भी नहीं कर पाये।

युधिष्ठिर को 6 जुलाई को जमानत दी गई। वहीं  घटना में घायल समीउद्दीन (67) को भी अस्पताल से छुट्टी मिल गई। अब सोमवार को दूसरे अभियुक्त राकेश की जमानत पर सुनवाई होनी है।

जमानत मिलने पर कासिम के भाई सलीम ने कहा कि कभी-कभी शांति भंग करने के मामले में भी आरोपी एक महीने के बाद बाहर आता है, लेकिन यहां हत्या जैसे अपराध में 20 दिन में जमानत दे दी गई। उन्होंने कहा कि अब उन्हें इंसाफ की कोई उम्मीद नहीं है।

ध्यान रहे चार साल पहले मुजफ्फरनगर के कवाल में मॉब लीचिंग में मारे गए गौरव सचिन की हत्या के आरोपियों की जमानत पर अब तक सुनवाई भी नहीं हुई है।

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?