उत्तर प्रदेश के हापुड़ में पिछले दिनों कथित गौरक्षा के चलते कासिम नाम के एक मुस्लिम शख्स की पीटकर हत्या का मामले में आरोपी राकेश सिसोदिया की तत्काल गिरफ्तारी की मांग उठना शुरू हो गई है। बता दें कि सिसोदिया ने एक स्टिंग में कैमरे पर अपनी जुर्म का इकबाल किया है।

मशहूर क्रिमिनल लायर और राज्यसभा सांसद केटीएस तुलसी ने एनडीटीवी से कहा, “हापुड़ माब लिन्चिंग केस के आरोपी को तुरंत गिरफ्तार करना बेहद ज़रूरी है क्योंकि वह समाज के लिए एक बड़ा खतरा है। इस मामले में आरोपी ने अपनी हत्या में भूमिका कबूली है। बयान देते समय उस पर कोई दबाव नहीं था। ये सच ही होगा।”

जबकि पूर्व कानून मंत्री कपिल सिब्बल ने एनडीटीवी से कहा, “हम लिंच मोड में हैं। कुछ लोग ये समझते हैं कि वे मानव की हत्या कर सकते हैं लेकिन गाय का व्यापार नहीं होना चाहिए।” वहीं बीजेपी सांसद विनय सहस्रबुद्दे ने एनडीटीवी से बातचीत में कहा- दोषी को कड़ी सज़ा मिलनी चाहिए।

गौआतंकी जिसने हापुड़ के पास कासिम की हत्या की, और पहलूँ खां के हत्यारों का NDTV द्वारा स्टिंग ऑपरेशन । आप वीडियो को ध्यान से देखिए और सुनिए, कितना ज़हर भरा पड़ा है इन आतंकवादियों के दिमाग मे । पुलिस और सरकार की भूमिका इन मामलों में क्या रही, इसपर भी गौर करना । सोए हुए मुस्लिमों को जगाओ, इससे पहले कि उनको आख़िरत तक के लिए सुला दिया जाए । इस वीडियो को सभी शेयर करना, सभी की मिलीभगत, सभी मुस्लिम तक पहुंचा दो, पुलिस व सरकार को टैग/मेंशन ज़रुर करें ।

Indian Muslim ಅವರಿಂದ ಈ ದಿನದಂದು ಪೋಸ್ಟ್ ಮಾಡಲಾಗಿದೆ ಸೋಮವಾರ, ಆಗಸ್ಟ್ 6, 2018

सहस्रबुद्धे ने कहा, “इस पूरे केस की तह तक जाकर जो दोषी हैं उनको कड़ी सज़ा मिलनी चाहिए। मुझे खुशी है कि सरकार में मॉब लिन्चिंग को लेकर नए कानून पर मंत्रणा शुरू हो गई है।”

बता दें कि पीड़ित समयुद्दीन की और से इस मामले में सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई। जिसमे आरोपियों की ज़मानत रद्द करने तथा लिंचिंग केस का ट्रायल उत्तर प्रदेश से बाहर करवाने की मांग की गई है। सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई की तारीख सोमवार को तय की है।