हापुड़ मॉब लिंचिंग: कासिम के भाई पर हुआ जानलेवा हमला, बाल-बाल बचे

12:12 pm Published by:-Hindi News
hapur 1 1535760324 618x347

यूपी के हापुड़ में कथित गौरक्षा के नाम पर मारे गए कासिम के भाई पर जानलेवा हमला हुआ है। गाजियाबाद के मसूरी इलाके में उन्हे और उनके सुरक्षाकर्मी को गाड़ी से कुचलने की कोशिश की गई। इस मामले में मसूरी थाने में अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है।

आज तक की रिपोर्ट के अनुसार, कासिम के भाई वादी ने अपनी शिकायत में कहा कि वह अपने गनर के साथ गाजियाबाद के मसूरी से होते हुए हापुड़ जा रहा था। उसी दौरान नेशनल हाईवे 24 पर एक गाड़ी ने सुरक्षाकर्मी और वादी को कुचलने की कोशिश की। इस मामले में  गाजियाबाद  के एसएसपी वैभव कृष्ण का कहना है कि मामले दर्ज करके जांच पड़ताल की जा रही है, जल्द ही आरोपियों की गिरफ्तारी कर ली जाएगी।

बता दें कि बीते दिनों ही इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को नोटिस जारी कर मेरठ रेंज के पुलिस महानिरीक्षक को मामले की जांच कर दो सप्ताह के भीतर रिपोर्ट पेश करने का भी निर्देश दिया है। हमले में जीवित बचे समीउद्दीन की याचिका पर सुनवाई करते हुए सीजेआई दीपक मिश्रा, जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ और जस्टिस इंदिरा बनर्जी की पीठ ने कील वृंदा ग्रोवर के आग्रह पर नोटिस जारी किया है।

hapud

वृंदा ग्रोवर याचिका पर जल्द सुनवाई की आवश्यकता पर ज़ोर देते हुए कहा था कि उत्तर प्रदेश पुलिस ने इस घटना को रोड रेज का मामला बताया है जबकि इसमे 45 वर्षीय मांस कारोबारी कासिम कुरैशी मारा गया। खास बात ये है कि एनडीटीवी की स्टिंग में मुख्य आरोपी युद्धिष्ठिर सिंह सिंसोदिया ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है।

सिसोदिया ने कोर्ट में बयान दिया था कि उसकी हमले में कोई भूमिका नहीं है और वह घटनास्थल पर भी मौजूद नहीं था। लेकिन उसने एनडीटीवी की टीम से बातचीत कहा कि उसने इस घटना में शामिल होने की बात जेल अधिकारियों को भी बताई थी।सिसोदिया ने कहा, हां, मैंने बोला कि वो गाय काट रहे थे, मैंने उसको काट दिया…जेलर के सामने..

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें