Saturday, June 12, 2021

 

 

 

इस साल हज सब्सिडी को खत्‍म नहीं किया जाएगा : मुख्‍तार अब्‍बास नकवी

- Advertisement -
- Advertisement -

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने शनिवार को कहा कि हज सब्सिडी से जुड़े विभिन्न आयामों के अध्ययन के लिए एक विशेष समिति का गठन किया है, जो जल्द अपनी रिपोर्ट पेश करेगी. उन्होंने साथ ही स्पष्ट किया कि हज 2017 में हज सब्सिडी खत्म नहीं होगी.

अल्पसंख्यक कार्य मंत्री ने कहा कि हज कमेटी के माध्यम से जाने वाले हज यात्रियों की हज सब्सिडी के संबंध में कई तरह की मांगें सामने आई हैं, साथ ही 2012 का उच्चतम न्यायालय का निर्णय भी है. इस मामले में संपूर्ण रूप से एक छह सदस्यीय विशेषज्ञ समिति अध्ययन कर रही है, वह अपनी रिपोर्ट जल्द देगी.

नकवी ने साफ किया कि नई व्यवस्था लागू होने पर भी किसी तरह का बड़ा बोझ हज यात्रियों पर नहीं पड़ेगा. नकवी ने यह भी स्पष्ट किया कि हज 2017 में हज सब्सिडी खत्म नहीं होगी.

मुम्बई में ऑल इंडिया हज उमराह टूर आर्गेनाइजर्स एसोसिएशन की बैठक के दौरान नकवी ने कहा कि भारत में हज के लिए आवेदन 2 जनवरी, 2017 से शुरू हो गए हैं. आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 24 जनवरी, 2017 है. भारत में पहली बार हज आवेदन प्रक्रिया पूरी तरह से डिजिटल हो गई है. इसी महीने हज का मोबाइल ऐप भी लॉन्‍च किया गया है. हज 2017 आवेदन की प्रक्रिया को ऑनलाइन करने का लोगों ने जबरदस्त स्वागत किया है.

उन्होंने कहा कि अभी तक लगभग 3 लाख से ज्यादा लोगों ने आवेदन किया है, जिसमें से 1 लाख से अधिक लोगों ने ऑनलाइन माध्यम से आवेदन किया है. ऑनलाइन आवेदन से लोगों को पारदर्शिता के साथ हज पर जाने का मौका मिलेगा.

नकवी ने कहा कि अल्पसंख्यक मंत्रालय हज 2017 के लिए हज यात्रियों को बेहतर से बेहतर सुविधा मुहैया कराने के लिए प्रतिबद्ध है और इसके लिए मंत्रालय ने कई कदम उठाए हैं. हज आवेदन प्रक्रिया को पूरी तरह से डिजिटलाइज करना इस दिशा में महत्वपूर्ण कदम है. नकवी ने कहा कि हज 2017 में भारत से 34,500 अधिक हज यात्री हज पर जाएंगे. यह निर्णय उनकी सउदी अरब की यात्रा के दौरान लिया गया. वर्षों बाद भारत से हज पर जाने वाले यात्रियों की संख्या में इतनी बड़ी वृद्धि की गई है. उनकी यात्रा के दौरान सउदी अरब की सरकार से हाजियों की सुविधाओं, निवास, यातायात, सुरक्षा आदि महत्वपूर्ण विषयों पर भी चर्चा हुई थी.

उल्लेखनीय है कि हज 2016 में देशभर में 21 केंद्रों से लगभग 99,903 हाजियों ने हज कमेटी ऑफ इंडिया के जरिए हज किया और लगभग 36 हजार हाजियों ने प्राइवेट टूर आपरेटरों के जरिये हज की अदायगी की.

नकवी ने कहा कि अल्पसंख्यक मंत्रालय आने वाले हज के बेहतर इंतजाम की तैयारी में अभी से ही व्यापक पैमाने पर लग गया है. मक्का और मदीना में हज यात्रा के दौरान हाजियों को किसी भी प्रकार की दिक्कत न हो, इसके लिए हाजियों को ट्रेनिंग देने में हज कमेटी ऑफ इंडिया और राज्यों की हज कमेटियों को अभी से ट्रेनिंग कैम्पों की योजना बनानी चाहिए.

उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय ने हाजियों को ट्रेनिंग देने के लिए 10-15 मिनट की एक फिल्म तैयार की है, जिसमें हाजियों के लिए तमाम बातों की जानकारी होगी. यह फिल्म हाजियों के लिए आयोजित किये जाने वाले ट्रेनिंग कैम्पों में भी दिखाई जाएगी. (भाषा)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles