हादिया ने कहा – मर्जी से अपनाया इस्लाम, किसी ने नहीं किया मजबूर

9:38 am Published by:-Hindi News
hadi14

hadi14

केरल के हाई प्रोफाइल केस हादिया उर्फ अखिला मामले में पीड़ित अब खुद ने लड़की सामने आकर कहा कि मैं एक मुस्लिम हूं. मैं अपने पति के साथ जाना चाहती हूं. किसी ने भी मुझे धर्म परिवर्तन के लिए मजबूर नहीं किया.

ध्यान रहे हिन्दू धर्म से ताल्लुक रखने वाली अखिला (24) ने पिछले साल इस्लाम धर्म अपनाकर शफीन जहां नाम के मुस्लिम व्यक्ति से शादी. साथ ही अपना नाम हादिया रख लिया था. इस मामले में सोमवार (27 नवंबर) को सुनवाई होनी है. चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की पीठ के समक्ष इस सुनवाई में खुद हादिया को भी पेश होना है.

कोच्चि से दिल्ली रवाना होते से पहले हादिया ने मीडिया से कहा, ‘मैं एक मुस्लिम हूं, मैं अपने पति के साथ जाना चाहती हूं, किसी ने मुझे धर्म बदलने के लिए दबाव नहीं डाला है.’

इस मामले में केरल हाईकोर्ट ने लव जिहाद का नाम देकर हादिया और शफीन की शादी को निरस्त कर दिया था. जिसके बाद शफिन ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. सुप्रीम कोर्ट ने पिछली सुनवाई के वक्त कहा था कि इस मामले की सुनवाई से पहले अदालत संबंधित महिला से उसका पक्ष जानना चाहेगी कि क्या उसने अपनी सहमति से धर्म परिवर्तन और निकाह किया था.

हादिया के पिता का कहना है कि उसके पति का आतंकवादी समूह इस्लामिक स्टेट (आईएस) के साथ संबंध है. हालांकि एनआईए की जांच में ऐसा कुछ सामने नहीं आया.

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें