गुड़गांव मारपीट केस: मुस्लिम परिवार ने वापस ली शिकायत, FIR वापस लेने का था दबाव

10:46 am Published by:-Hindi News

करीब 22 दिन पहले होली पर गुरुग्राम के एक मुस्लिम परिवार के साथ मे घर में घुसकर जानलेवा हमला किया गया था।इस मामले में अब पीड़ित पक्ष ने अपनी शिकायत वापस ले ली है। पीड़ित पक्ष ने कोर्ट में हलफनामा देकर बताया है कि दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया है और आरोपियों के खिलाफ केस को बर्खास्त कर उन्हें छोड़ दिया जाए।

यह हलफनामा 8 अप्रैल को कोर्ट में दाखिल किया गया। हलफनामे में दिलशाद ने बताया है कि आरोपी राजसिंह उर्फ अमित ने हमारे साथ कोई हिंसा नहीं की। यहां तक कि वह तो हमलावरों से हमारे परिवार को बचा रहा था और उसी ने घायलों को अस्पताल पहुंचाने में मदद की। हमें इस बात में कोई आपत्ति नहीं है कि उसके खिलाफ जारी केस को बर्खास्त कर उसे जमानत दे दी जाए।

वहीं घटना के पीड़ित मोहम्मद साजिदने बताया कि हम समझौते के लिए मान गए हैं, क्योंकि यदि हमें समाज में रहना है तो हमें समाज की भी सुननी पड़ेगी। हम चाहते हैं कि दोनों परिवार मिलजुल कर रहें। भोंडसी पुलिस थाने के एसएचओ सुरेन्द्र कुमार ने भी इस बात की पुष्टि की और बताया कि दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया है।

 इससे पहले पीड़ित परिवार ने सामूहिक रूप से खुदकुशी करने की धमकी दी थी। पीड़ित परिवार का कहना था कि उन पर प्राथमिकी वापस लेने का दबाव बनाया जा रहा है और स्थानीय नेताओं के ‘प्रभाव’ में पुलिस कार्रवाई नहीं कर रही है।

बता दें कि 21 मार्च को होली के दिन 20-25 लोगों के झुंड ने घर में घुसकर रॉड, तलवार  व लठियों से मारपीट की थी। इन लोगों ने घर में मौजूद साजिद, दिलशाद, समीर, शादाब सहित 12 लोगों को पीट-पीट कर लहूलुहान कर दिया। इस घटना का दिलशाद के परिवार की एक युवती ने वीडियो बना ‌लिया, जो बाद में सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें