Tuesday, January 25, 2022

तेलंगाना: गौरक्षा के नाम पर दलितों के साथ हुई मारपीट, घरों में की गयी तोड़फोड़

- Advertisement -

83 cownew 5

हैदराबाद । पीछले दो साल में गौरक्षा के नाम पर कथित गौरक्षको की गुंडागर्दी देखने को मिली है। काफ़ी जगहों पर लोगों के साथ मारपीट की गयी जिसमें कई लोगों की जान भी चली गयी। ऐसी घटनाओं के सबसे ज़्यादा शिकार दलित और मुस्लिम हुए है। एक ऐसी ही घटना तेलंगाना यादरी भुवनगिरी जिले के चिन्नाकंदूकुरू गांव में घटित हुई है। यहाँ दलित समुदाय के साथ मारपीट कर उनके घरों में तोड़फोड़ की गयी।

मिली जानकारी के अनुसार 14 जनवरी को क़रीब 20-30 लोगों के समूह ने दलितों पर हमला बोला। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक़ मकर सक्रांति के दिन गाँव वाले त्योहार मनाने के लिए इकट्ठा हुए थे। इस दौरान  परम्परा के अनुसार एक गाय का वध किया जाना था। जैसे ही लोग यह परम्परा शुरू करने वाले थे तभी क़रीब 30 लोग मोटरसाइकल पर सवार होकर गाँव में घुस गए। सबके हाथो में लाठी डंडे थे।

प्रत्यक्षदर्शी ने बताया की हमलावरों ने लोगों पर लाठी डैंडो से हमला बोल दिया। उनके घरों में तोड़ फोड़ की गयी और एक गाय को चुरा कर ले गए। इस दौरान उन्होंने लोगों को काफ़ी अपशब्द भी कहे। एक पीड़ित के अनुसार हमलावरों ने उनसे कहा की क्या तुम मुस्लिम हो जो गाय का माँस खाते हो। यह मामला 18 जनवरी को सामने आया। फ़िलहाल पुलिस ने मामला दर्ज कर दोषियों की तलाश शुरू कर दी है।

दलित बहुजन समाज सेवियों ने गुरुवार को गांव वालों के साथ एकजुटता दिखाते हुए भूख हड़ताल कर घटना की निंदा की। इसके बाद उन्होंने पुलिस आयुक को ज्ञापन सौंप गाँव वालों की सुरक्षा की गुहार लगायी। इसके अलावा उन्होंने दोषियों के ख़िलाफ़ एससी/एसटी ऐक्ट के तहत कार्यवाही करने की माँग की। मालूम हो की पूरे देश में इस तरह की काफ़ी घटनाए सामने आ रही है।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles