गुजरात के अहमदाबाद जिले में साबरमती नदी में कूदकर अपनी जान देने वाली आयशा के वीडियो ने पुरे देश को झंकझोर करके रख दिया है। इस मामले में गुजरात पुलिस ने सोमवार को राजस्थान के पाली से आयशा के फरार पति आरिफ खान को गिरफ्तार कर लिया है।

मृतका का पति पाली में इंदिरा कॉलोनी क्षेत्र में अपने बहन के घर छिपा हुआ था। इसकी जानकारी गुजरात पुलिस को मिली तो उन्होंने ट्रांसपोर्ट नगर थाना पुलिस को सूचना दी और सोमवार देर रात आरोपित को ट्रांसपोर्ट पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, जिसे देर रात गुजरात पुलिस अपने साथ ले आई।

आयशा ने अपनी जान देने से पहले एक वीडियो बनाया था जिसमें वो हंसते और मुस्कुराते हुए अपनी अंतिम बात कहती हुई नजर आई थीं। पुलिस के अनुसार 2018 में दोनों की शादी हुई थी। उसके कुछ वक्त बाद आरिफ आयशा को दहेज के लिए परेशान करने लगा था।

शादी के कुछ महीनों बाद ही आरिफ दहेज की मांग करते हुए आयशा को मायके छोड़ गया। बाद में रिश्तेदारों के समझाने पर साथ तो ले गया, लेकिन 2019 में फिर से गुजरात आयशा के माता पिता के पास छोड़ दिया। आयशा ने मरने से पहले दो मिनट के वीडियो संदेश में अपने पिता लियाकत अली मकरानी से अपील की थी कि वह उसके पति के खिलाफ घरेलू हिंसा की रिपोर्ट दर्ज न करवाएं।

आयशा के पिता लियाकत अली मकरानी द्वारा साबरमती रिवरफ्रंट (पश्चिम) थाने में दर्ज कराई गई प्राथमिकी के अनुसार आयशा के पति आरिफ बाबूखान उसका मानसिक उत्पीडऩ करता था और उससे कहा, अगर चाहती हो तो मर जाओ और मुझे एक वीडियो भेज दो। सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में आयशा को यह कहते सुना जा सकता है कि वह किसी दबाव में यह कदम नहीं उठा रही है।