jeth

jeth

2010 में आरटीआई कार्यकर्ता अमित जेठवा की हत्या के मामले में आरोपी गुजरात के पूर्व बीजेपी सांसद दीनूभाई बोगाभाई सोलंकी की जमानत रद्द कर दी गई.

सोमवार को उच्चतम न्यायालय ने जमानत रद्द करने का आदेश देते हुए कहा कि  जब तक आठ महत्वपूर्ण चश्मदीद गवाहों से पूछताछ पूरी नहीं हो जाती जमानत रद्द रहेगी.

न्यायमूर्ति ए के सीकरी और न्यायमूर्ति अशोक भूषण की पीठ ने 26 गवाहों से पुन: पूछताछ की अनुमति भी दी. साथ ही रोज़ाना आधार पर सुनवाई का आदेश भी दिया.

अदालत ने बीजेपी सांसद को बड़ा झटका देते हुए आदेश दिया कि आरोपी तब तक गुजरात में प्रवेश नहीं करेगा जब तक मामले में ज़रूरी नहीं हो. इसी के साथ अदालत ने सोलंकी को तत्काल पुलिस के सामने समर्पण करने का निर्देश दिया.

ध्यान रहे जेठवा की हत्या गुजरात हाईकोर्ट के बाहर 20 जुलाई 2010 को कर दी गई थी. वे गिर वन क्षेत्र में अवैध खनन के खिलाफ आरटीआई दाखिल कर रहे थे.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?