देश के कई हिस्सों में वॉट्सऐप के जरिए बच्चा चोरी की अफवाह में लोगों को पीट पीटकर मारा जा रहा है। जिसमे अब तक 29 लोगों की मौत हो चुकी है। ऐसे मे अब सरकार ने वॉट्सऐप को कड़ी चेतावनी जारी की है।

इस मामले मे व्हाट्सऐप ने अपनी तरफ से प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि ये घटनाएं भयावह हैं और जघन्य हैं। ‘वह प्लैटफॉर्म पर फैलाई जा रहीं फर्जी खबरों और गलत सूचनाओं को लेकर चितिंत है। इस मामले में सरकार, समाज और टेक्नॉलजी कंपनियों को साथ मिलकर काम करने की जरूरत है।’

वॉट्सऐप ने सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय से लेटर में कहा कि ‘आपके 2 जुलाई के पत्र के लिए धन्यवाद। भारत सरकार की तरह हम भी इस मामले को लेकर फिक्रमंद हैं। हम मानते हैं कि यह एक चुनौती है और इससे निपटने के लिए सरकार, समाज और तकनीकी कंपनियों को साथ मिलकर काम करना होगा।’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बता दें कि आईटी मिनिस्ट्री ने मंगलवार को इस मुद्दे पर अपनी सख्त प्रतिक्रिया दी थी और व्हाट्सऐप के सीनियर मैनेजमेंट से गैरजिम्मेदारी और भड़काऊ संदेशों पर नियंत्रण करने को कहा था। सरकार ने कहा था कि व्हाट्सऐप को इस मामले पर तुरंत एक्शन लेना होगा।

वहीं गृह मंत्रालय के एक अफसर ने बताया कि फेक न्यूज और वीडियो पर चर्चा के लिए कंपनियों के प्रतिनिधियों को बुलाया गया है, हालांकि अभी इसकी तारीख तय नहीं है।

Loading...