1482133826rupees

नई दिल्ली | 8 नवम्बर को प्रधानमंत्री मोदी ने 500 और 1000 के नोट बंद करने की घोषणा की. उस दिन मोदी ने लोगो को 50 दिन की मोहलत देते हुए कहा की आपके पास जितने भी पुराने नोट है उनको आप 30 दिसम्बर तक बैंक में जमा करा सकते है. नोट बंदी के फैसलों को आज 40 दिन हो चुके है. इन 40 दिनों में सरकार ने कई बार युटर्न लिया. अब खबर है की सरकार ने पुराने नोट जमा कराने पर भी प्रतिबंध लगा दिया है.

एएनआई की खबर के अनुसार , आरबीआई ने पुराने नोट जमा कराने को लेकर नयी गाइडलाइन जारी की है. वित्त मंत्रालय की और से आये आदेशानुसार अब बैंक में 5000 रूपए से अधिक मूल्य के पुराने नोट जमा नही हो पायेंगे. सरकार ने पुराने नोट जमा कराने को लेकर भी सीमा तय कर दी है. गाइड लाइन में कहा गया है की 30 दिसम्बर तक बैंक खातो में 5000 से अधिक नोट जमा नही होंगे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अगर किसी को इससे अधिक पैसे जमा कराने है तो इसके लिए दो अधिकारी पहले पूछताछ करेंगे और जिसमे पुछा जाएगा की अभी तक पुराने नोट जमा क्यों नही कराये है. संतोषजनक जवाब मिलने के बाद ही पैसा जमा कराने की अनुमति मिलेगी. यह छूट भी केवल एक बार दी जा रही है. केवल एक बार 5000 रूपए से अधिक पैसे खाते में जमा हो सकेंगे.

वित्त मंत्रालय के अधिकारी के अनुसार अब बैंक में बार बार पुराने नोट जमा नही हो सकेंगे. 5000 रूपए तक के पुराने नोट जमा कराने पर कोई प्रतिबंध नही लगाया है. 5000 से अधिक रूपए भी उनके खाते में एक बार जमा होंगे जिनके खातो की केवाईसी हो चुकी है. बैंक में भारी मात्रा में पुराने नोट जमा होने से सरकार की अब चिंता सता रही है की कुछ लोग बैंक खातो के माध्यम से कालाधन सफ़ेद कर रहे है. इसी को रोकने के लिए यह रोक लगायी गयी है.

Loading...