गोरखपुर | उत्तर प्रदेश की कमान सँभालते ही योगी अदित्यनाथ ने प्रदेश की कानून व्यवस्था को सुधराने के लिए कड़े कदम उठाने शुरू कर दिए है. इसके अलावा उन्होंने सभी गुंडे और बदमाशो को चेतावनी देते हुए कहा की वो या तो सुधर जाए या प्रदेश छोड़कर चले जाए. योगी ने नौकरशाहों और अपने नेताओं को भी नसीहत देते हुए कहा की हमारा कोई भी नेता या अधिकारी सरकारी ठेकेदारी के चक्कर में नही पड़ेगा.

मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार अपने गृह नगर गोरखपुर आये योगी आदित्यनाथ ने बेनीगंज स्थित बीजेपी कार्यालय में ये बाते कही. उन्होंने बीजेपी कार्यकर्ताओ को संबोधित करते हुए कहा की हम यहाँ मजे करने नही आये है बल्कि 18 से 20 घंटे काम करने आये है. जो इतना काम कर सकता हो वो साथ रहे या प्रदेश को छोड़ दे. प्रदेश को विकास के रास्ते पर लाने के लिए हमें इतना काम करना होगा.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

योगी ने आगे कहा की प्रदेश को लूटने वाले अब जेल जायेंगे. मैं गुंडे, मवाली, बदमाश , लूटेरो , सबसे कहना चाहता हूँ की या तो वो सुधर जाये या फिर प्रदेश छोड़कर चले जाए. नही तो उनके लिए ऐसी दो जगह है जहाँ कोई जाना नही चाहता. इसके बाद योगी ने भ्रष्टाचार और सरकारी ठेकों में व्याप्त भ्रष्टाचार का जिक्र करते हुए कहा की हमारा कोई भी नेता और अधिकारी सरकारी ठेकों के चक्कर में न पड़े.

योगी ने नसीहत देते हुए कहा की हमारा काम सरकारी कार्यो की मोनिटरिंग करना है. अधिकारी सभी कार्यो की मोनिटरिंग करे और उसकी रिपोर्ट सम्बंधित मंत्री को भेज दे. इसके अलावा एक कॉपी मुझे भी भेजे. यही नहीं अगर प्रदेश में कही भी गड़बड़ी हो रही है तो मुझे सूचित करे. प्रदेश को लूटने वालो की छुट्टी की जायेगी. अपने वादों को दोहराते हुए उन्होंने कहा की हमें प्रदेश में 24 घंटे बिजली देने, गड्ढा मुक्त सड़क और कानून का राज स्थापति करने के लिए अपने अन्दर से नकारात्मकता हटाकर सकारात्मकता को आत्मसात करना होगा.

Loading...