Tuesday, October 26, 2021

 

 

 

यूरोप में शैम्पू की शुरुआत करने वाले एंग्लो-इंडियन शेक दीन मोहम्मद को समर्पित Google का Doodle

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली गूगल ने आज अपने डूडल शेक दीन मोहम्मद को समर्पित किया है। शेक दीन मोहम्मद एक सर्जन, यात्री और उद्यमी थे। सन् 1759 में पटना में जन्में शेक दीन मोहम्मद बड़े ही प्रतिभासंपन्न व्यक्ति थे। उन्होंने यूरोप में भारतीय व्यंजनों और शैम्पू की शुरुआत की।

शेक दीन मोहम्मद एक एंग्लो-इंडियन यात्री, सर्जन और उद्यमी थे जो पश्चिमी दुनिया के सबसे उल्लेखनीय गैर-यूरोपीय प्रवासियों में से एक रहे। इन्होंने भारत और इंग्लैंड के बीच सांस्कृतिक संबंध बनाकर खुद का नाम बनाया।

शेक ईस्ट इंडिया कंपनी की बंगाल रेजिमेंट में एक सैनिक रहे, वे पहली बार आयरलैंड में 1784 में कप्तान की सेवा में आए थे, जिसके साथ उन्होंने कई वर्षों तक काम किया। वह पहले भारतीय लेखक थे जिन्होंने अंग्रेजी में एक पुस्तक प्रकाशित की और इंग्लैंड में एक भारतीय रेस्तरां खोला।

1810 में, उन्होंने 34 जॉर्ज स्ट्रीट, लंदन में हिंदोस्तान कॉफ़ी हाउस की स्थापना की, जो एक एशियाई द्वारा संचालित ब्रिटेन का पहला भारतीय रेस्तरां था। हालांकि, उनका ये व्यवसाय दो साल के भीतर विफल हो गया। बहरहाल, मोहम्मद को 1812 में अपने शानदार रेस्तरां को बंद करने के लिए मजबूर किया गया।

इसके बाद मोहम्मद अपने परिवार समेत ब्राइटन शहर में बस गए और समुद्र तट पर उन्होंने मोहम्मद बाथ नाम का एक स्पा खोला जिसमें शानदार हर्बल स्टीम बाथ की शुरुआत की गई थी। उनकी खासियत स्टीम बाथ और भारतीय चिकित्सीय मालिश रही। यह एक ऐसा उपचार था जिसे उन्होंने “शैम्पू” नाम दिया था, जो कि हिंदी शब्द चंपी से प्रेरित है जिसका अर्थ है “सिर की मालिश”।

मोहम्मद की मृत्यु 1851 में 32 ग्रैंड परेड, ब्राइटन में हुई। उन्हें सेंट निकोलस चर्च, ब्राइटन के ही एक कब्रिस्तान में दफनाया गया। आज भी इंग्लैण्ड के ब्राइटन संग्रहालय में शेक मोहम्मद की एक भव्य तस्वीर मौजूद है और लोग उन्हें दो देशों की संस्कृति को जोड़ने के लिए याद करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles