Friday, December 3, 2021

अच्छे दिन के बदले फिर से महंगाई की मार, थोक महंगाई दर में दोगुनी वृद्धि

- Advertisement -

महंगाई से निजात दिलाने के वादे के साथ सत्ता में आई मोदी सरकार महंगाई को काबू करने में नाकाम ही रही. जिसके चलते महंगाई दर में दोगुनी वृद्धि हो चुकी है.

देश के थोक मूल्य सूचकांक (डब्ल्यूपीआई) अगस्त महीने में दोगुने होकर 3.24 प्रतिशत रहे. वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, “अगस्त 2017 की थोक महंगाई दर 3.24 फीसदी रही है, जबकि जुलाई में यह 1.88 फीसदी थी और अगस्त 2016 में 1.09 फीसदी थी.”

आकड़ो के अनुसार, अगस्त महीने में खाद्य पदार्थों की कीमतें सालाना आधार पर 5.75 प्रतिशत बढ़ी जो जुलाई में 2.15 प्रतिशत रही थी. सब्जियों के दाम 44.91 प्रतिशत बढ़े जबकि जुलाई में यह वृद्धि दर 21.95 प्रतिशत रही.  प्याज के दाम 88.46 प्रतिशत बढ़े, जबकि पूर्व महीने में इसमें 9.50 प्रतिशत की गिरावट आई थी.

परिवहन और संचार क्षेत्रों में भी महंगाई दर बढ़कर 3.71 फीसद हो गई. जो जुलाई में 1.76 फीसद थी. इसके अलावा भोजन, जलपान और मिठाई की श्रेणी में मुद्रास्फीति अगस्त में बढ़कर 1.96 फीसद हो गई.

साल-दर-साल आधार पर अगस्त में सब्जियों की कीमतों में 6.16 फीसदी की तथा अनाजों की कीमतों में 3.87 फीसदी की तेजी दर्ज की गई. वहीं, मांस-मछली की कीमत में 2.94 फीसदी की तेजी दर्ज की गई. गैर-खाद्य पदार्थो में ईधन और बिजली के खंड में महंगाई दर बढ़कर 4.94 फीसदी दर्ज की गई.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles