स्वर्ण मंदिर में पूर्व हजूरी रागी ज्ञानी निर्मल सिंह का आज तड़के निधन हो गया। ज्ञानी निर्मल सिंह कोरोना वायरस से संक्रमित थे। पंजाब के आपदा प्रबंधन के विशेष मुख्य सचिव केबीएस सिंधु ने आज सुबह यह जानकारी दी कि ज्ञानी निर्मल सिंह का तड़के 4:30 बजे निधन हो गया।

सरकारी मेडिकल कॉलेज की प्रिंसिपल डॉक्टर सुजाता शर्मा ने बताया कि उनकी हालत बुधवार शाम को बिगड़नी शुरू हो गई थी और उन्हें वेंटीलेटर पर रखा गया था। गुरुवार तड़के साढ़े चार बजे उनका निधन हो गया। सूत्रों ने बताया कि 62 वर्षीय सिंह दमे की बीमारी से ग्रस्त थे।

सिविल सर्जन प्रभदीप कौर जोहल ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 62 वर्षीय गुरबानी वाचक सिंह हाल ही में विदेश से लौटे थे। 30 मार्च को सांस फूलने और चक्कर आने की शिकायत के बाद उन्हें गुरुनानक देव अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बुधवार को आई अंतिम दौर की जांच रिपोर्ट में उनमें कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई।

बता दें कि निर्मल सिंह ने विदेश से लौटने के बाद दिल्ली और कुछ अन्य स्थानों पर सम्मेलनों और धार्मिक सभाओं का आयोजन भी किया था। निर्मल सिंह ने अपने परिवार के सदस्यों और अन्य रिश्तेदारों के साथ 19 मार्च को चंडीगढ़ के एक घर में भी कीर्तन भी किया था।

उधर, पुलिस ने कोरोना वायरस को अन्य लोगों में फैलने से रोकने के लिए सिंह के आवास के आसपास के क्षेत्र को सील कर दिया है। बता दें कि हजूरी रागी ज्ञानी निर्मल सिंह पद्म श्री से सम्मानित थे।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन