baba ashram in rohini 1513838990

दिल्ली के उत्तरी इलाके रोहिणी में स्थित आध्यात्मिक विश्वविद्यालय से 41 नाबालिग लड़कियों को रिहाये कराये जाने के बाद आश्रम के प्रमुख बाबा वीरेंद्र देव दिक्षित को लेकर बड़े खुलासे हो रहे है.

कथित कृष्ण अवतार बाबा के 2 और ठिकानों को पुलिस ने मोहन गार्डन और पालम में ढूंढ निकाला है. 16 हजार लड़कियों से शारीरिक सबंध बनाने की चाहत रखने वाला इस बाबा के आश्रम से टीम को कुछ किताबें मिली हैं, जिसमें बाबा के प्रवचन लिखे हुए है.

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति जयहिंद ने किताब में लिखे हुए पप्रवचन को ट्वीट किया.  इनमें से एक किताब में लिखा था कि ‘बाप के साथ सो जाओ, अकेले नहीं. अकेले सोते ना, तभी स्वप्न आते हैं. अगर बाप के साथ सोओ, तो कभी ऐसे स्वप्न नहीं आ सकते.’ वहीँ दूसरी में लिखा है,’दो मुख्य बातें लक्ष्य के रूप में सामने रखनी हैं। एक तो लव, दूसरा लवलीन. जो जितना लवली होगा, वह उतना ही लवलीन रह सकता है.’

स्वाति ने इस बारे में ट्वीट कर कहा कि बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित सिखाता है कि सिर्फ बच्चियां बाबा को समर्पण करेंगी. शादी नहीं करेंगी. आदमियों का समर्पण नहीं कराया जाता है। कल बाबा के मोहन गार्डन आश्रम पर जब गए, तो कुछ किताबें मिलीं. ज़रा देखिए बाबा का ‘ज्ञान’. पता नहीं मां-बाप अपनी छोटी बच्चियों को जल्लादों को क्यों सौपते हैं!’

दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा कि ‘बाबा के साथ लव पर्सेंटेज, लवली और लवलीन होना और बाप के साथ सोने से गंदे स्वप्न नही आते. ये है बाबा का ज्ञान. खुद को कृष्ण भगवान बता कर 16 हजार गोपियों की चाह रखने वाला ये बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित घिनौना और पूरी तरह फ़र्ज़ी है. इसको बंद करो!’

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano