Wednesday, June 23, 2021

 

 

 

कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों को राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने दिया अपना समर्थन

- Advertisement -
- Advertisement -

बागपत: मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कृषि कानूनों को लेकर विरोध कर रहे किसानों को अपना समर्थन दिया है। सत्यपाल मलिक ने कहा है कि किसानों की मांग बहुत हद तक सही है। मलिक ने दावा किया कि किसान नेता राकेश टिकैत की गिरफ्तारी उन्होंने ही रुकवाई थी।

मलिक ने कहा कि केंद्र सरकार एमएसपी को कानूनी मान्यता दे तो किसान भी मान जाएंगे। सरकार गलत रास्ता अपना रही है। सरकार किसानों को हरा नहीं पाएगी। सत्ता के अहंकार में किसानों के साथ ज्यादती न करें, उनकी जायज मांगे मान लेनी चाहिए।

उन्होंने कहा, ”कोई भी कानून किसान के पक्ष में नहीं है। जिधर भी जाते हैं वहां लाठीचार्ज हो जाता है। जिस देश का किसान और जवान जस्टिफाइड नहीं होगा उस देश को कोई बचा ही नहीं सकता।”

मलिक ने कहा, ”सरदार कौम पीछे नहीं हटती और 300 साल बाद भी बात नहीं भूलती। इंदिरा गांधी ने भी ऑपरेशन ब्लू स्टार के बाद महामृत्युंजय मंत्र का जाप कराया था।” मलिक ने यह भी कहा कि उन्होंने जब किसान नेता राकेश टिकैत की गिरफ्तारी की सुगबुगाहट सुनी तो फोन करके इसे रुकवाया।

उन्होंने कहा कि यकीन दिलाता हूं किसानों के मामले पर जितनी दूर तक भी जाना पड़ेगा, उतनी ही दूर तक जाऊंगा। क्योंकि मुझे किसान की तकलीफ मालूम है। देश में किसान बहुत बुरे हाल में है। उन्होंने कहा कि मैं प्रधानमंत्री के एक बहुत बड़े पत्रकार मित्र से मिलकर आया हूं।

राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा, ”देश में किसानों का बुरा बहुत हाल है। किसान हर दिन गरीब होता जा रहा है। सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों की सैलरी हर तीन साल में बढ़ जाती है। किसान जो बोता है वो सस्ता है और जो खरीदता है वो महंगा है। किसानों की समस्या हल कराने के लिए मैं हर कोशिश करूंगा।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles