Monday, November 29, 2021

माफ़ करना ऐ दोस्त, जिस कपड़े से तुम्हारा कफ़न सिलना था वो अभी किसी का बंद गला सिलने के काम आ रहा है- गौतम गंभीर

- Advertisement -

big 435442 1476790497

नई दिल्ली | भारतीय क्रिकेटर गौतम गंभीर सामजिक मुद्दों को लेकर काफी गंभीर रहते है. इसलिए ज्यादातर मुद्दों पर वह अपनी प्रतिक्रिया देने से नही हिचकते. चाहे सरकार के फैसले के खिलाफ आवाज मुखर करनी हो या फिर किसी शहीद की बेटी की पढ़ाई का खर्च उठाने की जिम्मेदारी, वो हर मोर्चे पर अपनी उपस्थिति दर्ज कराते है. इस बार भी उन्होंने ऐसा ही किया है लेकिन इस बार वो कुछ ज्यादा गुस्से में दिखाई दे रहे है.

दरअसल हाल ही में अरुणाचल प्रदेश के तवांग में एयरफोर्स का एक विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसमे 7 सैनिको की मौत हो गयी थी. शहादत के दो दिन बाद इन शहीदों की एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हुई जिसके बाद लोगो में आक्रोश फ़ैल गया. दरअसल इन शहीदों का शव कथित तौर पर प्लास्टिक की बोरिया में लपेटा गया और कार्डबोर्ड में बाँधा गया था. शहीदों के शव के साथ ऐसा व्यवहार किसी भी भारतीय को पसंद नही आया.

इसलिए सोशल मीडिया पर लोगो ने जमकर गुस्सा निकाला. इनमे गौतम गंभीर भी शामिल है. उन्होंने ट्वीट कर इन तस्वीरो पर बेहद ही कड़ी टिप्पणी की. उन्होंने लिखा,’ IAF क्रैश के शहीदों के शव…शर्मनाक! माफ़ करना ऐ दोस्त, जिस कपड़े से तुम्हारा कफ़न सिलना था वो अभी किसी का बंद गला सिलने के काम आ रहा है!!!’ हालाँकि खुद सेना की और से इस घटना पर एक बयान जारी कर इसे एक भूल करार दिया गया.

अपने बयान में सेना ने कहा, ‘अत्यधिक ऊंचाई वाले क्षेत्र में सीमित संसाधनों के कारण हेलिकॉप्टर ज्यादा भार नहीं ले जा सकते.  इसलिए शवो को बॉडी बैग्स या ताबूत के बजाय उपलब्ध स्थानीय संसाधनों में लपेटा गया. यह एक भूल थी, मृत सैनिकों को हमेशा पूर्ण सैन्य सम्मान दिया जाता है. शवों को बॉडी बैग्स, लकड़ी के बक्से, ताबूत में लाया जाना सुनिश्चित किया जाएगा.’ बताते चले की उत्तरी सैन्य कमान के पूर्व कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) एच एस पनाग ने ट्वीट कर इन तस्वीरो को सामने रखा था.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles